Headlines
Loading...
निगम में व्यापक स्तर पर भ्रष्टाचार, ठेकेदार को 40% देनी पड़ती है रिश्वत

निगम में व्यापक स्तर पर भ्रष्टाचार, ठेकेदार को 40% देनी पड़ती है रिश्वत


निगम में व्यापक स्तर पर भ्रष्टाचार, ठेकेदार को 40% देनी पड़ती है रिश्वत :

 बबलु प्रकाश*

पटना। आम आदमी पार्टी बिहार के प्रदेश मीडिया प्रभारी बबलु कुमार प्रकाश ने पटना क्षेत्र में गत दिनों हुई अतिवृष्टि के कारण बाढ़ व जलजमाव के चलते राजेन्द्र नगर, कंकड़बाग, इंद्रा नगर, संदलपुर, बाजार समिति, नंद नगर कॉलोनी, हनुमान नगर, लोहानीपुर सहित पूरे पटना के निवासियों को हुए नुकसान के मुआवजे की मांग बिहार सरकार से की है।

बबलु ने कहा कि पटना के मध्यमवर्गीय जनता ने रुपया रुपया जोड़कर फ्रिज, टीवी, सोफा, फर्नीचर इत्यादि खरीदा था जो पानी मे डूब कर खराब हो गया। जिला प्रशासन जलजमाव वाले क्षेत्रों का सर्वे कराकर नुकसान का भरपाई करें। क्योंकि यह प्राकृतिक आपदा नही है, सरकारी मिशनरी के लापरवाही है। जिस कारण पटना की जनता को भारी नुकसान हुआ है।

उन्होंने कहा, यहां पर विकास का कोई पैमाना नहीं है। नगर निगम पटना के लोगों से हाउस टैक्स लेता है, सीवर टैक्स लेता है, वाटर टैक्स लेता है. लेकिन सुविधा के नाम पर कुछ नहीं है। न सीवर है, न सड़क है।पूरे रोड पर गंदगी फैली रहती है। पंप हाउस, संप हाउस बदहाल है। नाला-नहर उड़ाही के नाम पर सिर्फ सरकारी पैसे की लूट है। कितना साफ हुआ उसका कोई मेजरमेंट निगम के अधिकारियों के पास नही है। *निगम के योजनाओ के लिए ठेकेदारों को 40% देनी पड़ती है रिश्वत। निगम में व्यापक स्तर पर रिश्वतखोरी है। सरकार, निगम के योजनाओं की जाँच कराएं।*

बबलु ने कहा 'आप' के कार्यकर्ता जनता के सहयोग से निगम के नाला उड़ाही, सड़क- नाला निर्माण जैसे योजनाओं पर निगरानी रखेगी। निगम में फैली भ्रष्टाचार पर लगाम लगाएगी।

बिहार दर्पण न्यूज़ को हमेशा विजिट करे और पाये न्यूज़ अपने मोबाइल पर सबसे पहले

1 comment

  1. aaj hamari Janata ki udasinta ke Karan hi aise neta aur thekedar milkar ke pure Desh ka beda Garg kiye hue hain aakhir yah Janata kab jagegi aankh ke samne construction ka kam hota hai nali banaya jata hai gali banaya jata hai log dekhte bhi hai aate jaate lekin usmein kis gunavata ka chij ka upyog ho raha hai aakhir koi kyon nahin dekte Hain aur kyon nahin Bolte hai
    mere hisab se to yah kahana bilkul galat nahin hoga ki Shayad yah desh ki Janata aaj bhi dari Hui hai aise netaon se aur aise thekedaro se

    ReplyDelete