Headlines
Loading...
राजेंद्रसेतु से अब नही जा सकेंगे एक भी ओवरलोड वाहन

राजेंद्रसेतु से अब नही जा सकेंगे एक भी ओवरलोड वाहन




पटना ग्रामीण से रवि शंकर शर्मा कि रिपोर्ट

हमारे चैनल के लगातार मुहिम का  अब जमीन पर असर दिखने लगा है। हमारे मुहिम के बाद प्रशासन ने एक्शन लिया और राजेंद्रसेतु के दोनों एन्ड पर हाईट गेज लगाया गया इसके बाबजूद 40 टन तक के वाहनों का आवागमन जारी रहा,परंतु हम लगातार इसके खिलाफ खबर चलाते रहे । क्योंकि राजेंद्रसेतु राष्ट्रीय सांस्कृतिक भौतिक औऱ आर्थिक धरोहर है और किसी भी राष्ट्रीय अथवा सार्वजनिक संपत्ति को बचाने का प्रयास राष्ट्रधर्म है।नतीजतन प्रशासन ने कड़ा रुख अख्तियार किया, बेगुसराय और पटना जिला प्रशासन के द्वारा लागातार ओवरलोड वाहनों के विरुद्ध करवाई के बाबजूद ओवरलोडिंग बंद नही हो रहा था।अतः अब पटना जिले की ओर से चार प्रवर्तन अवर निरीक्षक और खनन पदाधिकारी की स्थायी तैनाती कर दी गई है, जो किसी भी वाहन को ओवरलोड नही जाने देंगे।इसी क्रम में आज करवाई करते हुए लगभग एक दर्जन वाहनों को जब्त किया गया।प्रवर्तन अवर निरीक्षक ऑन स्पॉट फाइन भी कर रहे हैं। अधिकारी पवन कुमार ने बताया कि अब बारह बारह घण्टे के दो शिफ्ट में मोबाईल दारोग़ा औऱ खनन पदाधिकारी हाईट गेज के आसपास तैनात रहेंगे ताकी एक भी ओवरलोड वाहन सेतु में ना जाने पाये।सूत्रों की माने तो रेल ने भी ओवरलोड वाहनों के विरुद्ध कड़ा रूख अपनाते हुए सेतु पर वहन क्षमता घटाकर वाहन समेत 12 टन तक सीमित कर दिया है। और इसी कारण अधिकारियों की तैनाती संभव हो पाई है। यह भी सूचना मिल रही है कि जल्दी ही रेल की टीम सेतु निरीक्षण कर इसके पुनर्मरम्मत का रोड मैप तैयार कर सकती है।


बिहार दर्पण न्यूज़ के साथ काम करने के लिए नीचे दिए गए नम्बर पर सम्पर्क करे :- +918210500324