Headlines
Loading...
परिवार नियोजन पर जागरूकता के लिए निकाली गयी संकल्प रैली, बीडीओ ने दिखाई हरी झंडी

परिवार नियोजन पर जागरूकता के लिए निकाली गयी संकल्प रैली, बीडीओ ने दिखाई हरी झंडी


परिवार नियोजन पर जागरूकता के लिए निकाली गयी संकल्प रैली, बीडीओ ने दिखाई हरी झंडी


- गली-गली व मुहल्ले में जाकर लोगों को किया गया जागरूक
- केयर इंडिया के सहयोग से निकाली गयी जागरूकता रैली

सिवान से राजीव रंजन कुमार कि रिपोर्ट

गोपालगंज 11 नवंबर। परिवार नियोजन पर जागरूकता फैलाने के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से कई कार्यक्रम चलाये जा रहे हैं और इसी कड़ी में पचंदेवरी प्रखंड  के जमुनाहा हाईस्कूल से केयर इंडिया के सहयोग से स्वास्थ्य जागरूकता सह संकल्प रैली निकाली गयी।जहां इस रैली को प्रखंड विकास पदाधिकारी ने डॉक्टर आनंद बिभुती ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया जिसमें केयर इंडिया के प्रतिनिधि, विकास मित्र, इंदरा आवास सहायक, जनप्रतिनिधि व स्कूली छात्र-छात्राओं ने भाग लिया।
वहीं रैली में ”परिवार नियोजन से निभाए जिम्मेदारी”, ” माँ और बच्चे के स्वास्थ्य की पूरी तैयारी” के नारे लिखी तख्तियां लेकर जन-जागरूकता रैली निकली गई और इस जागरूकता रैली के माध्यम से स्वास्थ्य कर्मियों ने एक सार्थक कल की शुरूआत परिवार नियोजन के साथ को अपनाने के लिए संदेश दिया और इस अवसर पर केयर इंडिया के डीटीएल मुकेश कुमार सिंह, परिवार नियोजन समन्वयक अमित कुमार, बीएम अभिनित कुमार श्रीवास्तव, हाईस्कूल के प्राचार्य, शिक्षक व छात्र-छात्राएं शामिल थे। 

छोटा परिवार सुखी परिवार

वहीं प्रखंड विकास पदाधिकारी डॉक्टर आनंद बिभुती  ने बताया कि अगर दो अधिक बच्चे होंगे तो हमें और अधिक समस्याओं का सामना करना पड़ेगा इसलिए परिवार नियोजन पर चलते हुए एक या दो ही बच्चों का परिवार रखना होगा और परिवार नियोजन के स्थायी व अस्थाई साधनों को अपनाना होगा और उन्होने कहा कि हम सब मिलकर ये शपथ लें कि अपने आस-पास के लोगों व महिलाओं को परिवार नियोजन के साधनों को अपनाने के लिए प्रेरित करेंगे तथा इसके बारे में जागरूकता फैलायेंगे। 

अस्थायी व स्थायी साधनों के पर समुदाय किया गया जागरूक:

वहीं केयर इंडिया के डीटीएल मुकेश कुमार सिंह ने बातया कि जहां परिवार नियोजन के स्थायी एवं अस्थायी साधनों का उपयोग नहीं हो रहा है वहां लोगों को जागरूक करने सास-बहू सम्मेलन का आयोजन ब्लाक स्तर पर किया जा रहा है जिसमें समुदाय को परिवार नियोजन की स्थायी उपाय जैसे महिला एवं पुरुष नसबंदी, प्रसव उपरांत नसबंदी और अस्थायी उपाय जैसे कंडोम, कॉपर-टी, आईयूसीडी, अंतरा गर्भनिरोधक इंजेक्शन, गर्भ निरोधक गोली आदि के बारे में जागरूक किया गया। 

गतिविधियों के माध्यम से प्रचार-प्रसार: 

वहीं केयर इंडिया के परिवार नियोजन समन्वयक अमित कुमार ने बताया कि गतिविधियों के माध्यम से परिवार नियोजन का प्रचार-प्रसार किया जा रहा है और साथ ही जिला चिकित्सालय एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में परिवार कल्याण संबंधी परामर्श, उपचार के साथ-साथ महिला एवं पुरुष नसबंदी की सेवाएं प्रदान की जा रही है।

जिम्मेदारी निभाओ, प्लान बनाओं: रैली में बैनर पोस्टर के माध्यम से लोगों व महिलाओं को जागरूकत किया गया। जिसपर कई स्लोगन व संदेश लिखा गया गया था। 

विवाह के सही उम्र, लड़के के 21 एंव लड़की की 18 वर्ष
शादी के बाद कम से कम दो वर्ष बाद पहला बच्चा
पहले एंव दूसरे बच्चे में कम से कम तीन साल का अंतराल
छोटा परिवार एंव समिति परिवार के लाभ
परिवार नियोजन के स्थाई एंव अस्थाई साधन के बारे में जानकारी