Headlines
Loading...
डायबिटीज रोग के बारे मे जो लोग नही जानते आखिर सच क्या है

डायबिटीज रोग के बारे मे जो लोग नही जानते आखिर सच क्या है


डायबिटीज एक ऐसी बिमारी जो एक बार अगर शरीर मे प्रवेश कर गयी तो यह पुरे शरीर को खोखला कर देती है।  आपके जीवन शैली को बिल्कुल संयम कर देती है।  थोडी सी शरीर के प्रति  लापरवाही डायबिटीज के रोगी को परेशानी मे डाल सकती है। 


आज जिस तरह से डायबिटीज घर घर की बिमारी बन गई है मुख्य कारन है जानकारी का आभाव।  गरीब तबके के लौगो मे डायबिटीज के प्रति  जानकारी ना होने से उनके यह बिमारी तेजी से फैल रही है।  आज सबसे ज्यादा जरूरत है गरीबी रेखा से नीचे रह रहे लोगो को डायबिटीज के प्रति जागरूक करने की।  डायबिटीज से पीडि़त लोगो मै काउंसिलिग बहुत जरूरी होता है।


  डायबिटीज से पीडि़त लोगो को क्या भोजन होना चाहिए ऊनका जीवन शैली कैसा हो परिबार की जिम्मेदारी डायबिटीज रोगी के लिए कैसा हो।  इसी सबों की जानकारी डायबिटीज से पीडि़त लोगो खासकर गरीबो कैसे लिए आसथा फाऊनडेशन ने आज वाक फार लाईफ डायबिटीज काउंसिलिग सेंटर की शुरूआत की।  शहर के मशहूर फिजिशियन डा दिबाकर तैजसबी नै ईस सेंटर को बहुत बडी उपलब्धि बताया।  उन्होंने कहा कि आज जरूरत है लोगो को डायबिटीज के प्रति  काउंसिलिग करने की।  डायबटोलाजिसट डा अमित कुमार ने कहा कि डायबिटीज होना आज आम बात हो गई है किन्तु यह तो खतरनाक होता है जब लोगो को इस बिमारी के साईड प्रभाव के बारे मे पता ना हो।  बैसे स्थिती मे आसथा फाऊनडेशन द्वारा शुरू किया गया यह सेंटर बहुत उपयोगी होगा। आस्था फाऊनडेशन के सचिव पुरूषोत्तम सिंह ने कहा कि आसथा फाऊनडेशन पटना के सभी मुहल्ले मे इस तरह का सेंटर खोलेगी जहाँ गरीबो के साथ साथ सभी लोगो को मुफ्त ईनसुलिन डायबिटीज दवा एवं काउंसिलिग किया जाएगा।  कार्यक्रम में बंगलोर से आए आंखों के डाक्टर ऐश्वर्या ने भी अपनी बातों से लोगो को अवगत कराया ।  कार्यक्रम को सफल बनाने मे समाज सेवी संजीव करन,  ऐश्वर्या,  रोशन राज के अलावे बहुत सारे लोग उपस्थित थे।