Headlines
Loading...
मालवाहक वाहनों के लिये राजेंद्रसेतु बन्द होने से लोगो के सामने जीविका का संकट।

मालवाहक वाहनों के लिये राजेंद्रसेतु बन्द होने से लोगो के सामने जीविका का संकट।



पटना ग्रामीण से रवि शंकर शर्मा की रिपोर्ट

पूर्व निर्धारित आदेश के अनुसार राजेंद्रसेतु को मालवाहक वाहनों के लिये बन्द किये जाने के बाद अचानक लाखों लोगों के सामने जीविका का प्रश्न खड़ा हो गया है।ट्रांसपोर्ट व्यवसाय से पटना के अलावे बेगूसराय, समस्तीपुर, खगड़िया, लखीसराय, नवादा, शेखपुरा और नालंदा जिले की लाखों आबादी प्रत्यक्ष और परोक्ष रूप से प्रभावित हुई है।जिनके जीविका का मूल आधार ट्रांसपोर्ट व्यवसाय से जुड़ा था।

लेकिन सेतु को बन्द किये जाने के बाद लोग हतप्रभ डरे हुये और निराश हैं।ट्रांसपोर्ट व्यवसायियों का प्रतिनिधि पदाधिकारियों से लगातार गुहार लगा रहा है कि वाहनों को अंडर लोड चलने की अनुमति दी जाय।परंतु मामला रेलवे NHAI का होने के कारण जिला प्रशासन कुछ नही कर पा रही है।ऐसे में ट्रांसपोर्टरों को पुल के फिर से चालू होने तक या तो इंतजार करना होगा या फिर कोई दूसरा  विकल्प तलाशना होगा।