Headlines
Loading...
महाराजगंज व्यवहार न्यायालय की स्थापना को लेकर अधिवक्ताओं ने दिया धरना

महाराजगंज व्यवहार न्यायालय की स्थापना को लेकर अधिवक्ताओं ने दिया धरना




अधिवक्ताओं के धरना को मिला व्यवसायियों का समर्थन 

उपस्कर वापस ले जाने को लेकर अधिवक्ताओं में आक्रोश 

महाराजगंज अनुमंडल व्यवहार न्यायालय की स्थापना के लेकर महाराजगंज अधिवक्ता संघ के तत्वावधान में सोमवार को एक दिवसीय धरना प्रदर्शन चन्द्रशेखर पुस्तकालय सह पूर्व अनुमंडल कार्यालय परिसर में अधिवक्ताओं ने दिया। धरना को संबोधित करते हुए अधिवक्ता संघ के सचिव दिनेश प्रसाद सिंह ने कहा कि यह महाराजगंज जनता के साथ छलावा है। महाराजगंज अनुमंडल के स्थापना हुए 29 वर्ष हो गए फिर भी शासन प्रशासन की तरफ से यहां पर व्यवहार न्यायालय के स्थापना एक सोची-समझी साजिश के तहत रोकी गई है। उन्होंने कहा कि यहां के सारे जनप्रतिनिधियों में जनता के प्रति अकर्मण्यता का भाव है जिसके चलते यहां पर व्यवहार न्यायालय की स्थापना नहीं हो रही है। उन्होंने महाराजगंज की जनता से अपील की कि व्यवहार न्यायालय स्थापना होने तक इस लड़ाई में अग्रणी भूमिका निभाएँ। उन्होंने कहा कि महाराजगंज व्यवहार  न्यायालय की उद्घाटन की तिथि निर्धारित हो जाने के बावजूद भी एक रणनीति के तहत उद्घाटन की तिथि ताल दी गई और यहां रखे उपस्कर को मंगाने की साजिश चल रही है।

अधिवक्ता संघ के धरना को मिला व्यवसायियों का समर्थन महाराजगंज अधिवक्ता संघ के बैनर तले पूर्व अनुमंडल कार्यालय में अधिवक्ता संघ के एकदिवसीय धरना को महाराजगंज व्यवसायिक प्रकोष्ठ का समर्थन मिला। जदयू व्यवसायिक प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष लालबाबू प्रसाद अपना समर्थन देते हुए कहा कि महाराजगंज के विकास और मान सम्मान के लिए यथाशीघ्र अनुमंडलीय व्यवहार न्यायालय की स्थापना हो। इसके लिए महाराजगंज व्यवसायिक प्रकोष्ठ अपना पूर्ण रूप से इस धरना प्रदर्शन कार्यक्रम को समर्थन करता है। अधिवक्ता संघ के धरना कार्यक्रम को सांसद प्रतिनिधि मोहन कुमार पद्माकर, इंजीनियर प्रमोद रंजन,भाजपा नेता त्रिपुरारी शरण सिंह आदि अधिवक्ताओं ने भी संबोधित किया। धरना प्रदर्शन में अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष मुंशी सिंह,मनोज कुमार सिंह,अमोद कुमार भानु,सुशील कुमारमिश्रा, राज किशोर शर्मा, सुरेंद्र सिंह, अमरेश सिंह, जयप्रकाश सिंह,मिथिलेश कुमार सिंह, चितरंजन सिंह भारत भूषण भास्कर,अखिलेंद्र सिंह,करुणा कांत सिंह, प्रेमकुमार, केके सिंह, प्रभात कुमार सिंह आदि अधिवक्ता उपस्थित थे।
___________________________________________
बिहार दर्पण न्यूज़ एप्स डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें 

👇🏻👇🏻💯💯👇🏻👇🏻

______________________________________________