Headlines
Loading...
शिक्षकों का मांग पूरी होने तक सघर्ष जारी रहेगा

शिक्षकों का मांग पूरी होने तक सघर्ष जारी रहेगा



प्रखंड कार्यालय परिसर स्थित बीआरसी भवन में बुधवार को नियोजित शिक्षकों ने तीसरे दिन भी हड़ताल जारी रखा। समान काम-समान वेतन सहित विभिन्न मांगों को लेकर बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के आह्वान पर प्रखंड के शिक्षक हड़ताल पर रहे। इधर शिक्षकों की हड़ताल में अब पंचायत के मुखिया का भी समर्थन मिल रहा है। प्रखंड के बलऊ पंचायत के मुखिया सुनील कुमार सिंह ने बुधवार को नियोजित शिक्षकों को अपना समर्थन देते हुए कहा कि सरकार से शिक्षकों की मांग जायज है। नियोजित शिक्षक रत्नेश्वर कुमार सिंह ने कहा कि समान काम के लिए समान वेतन जो संवैधानिक अधिकार प्राप्त है हालांकि राज्य सरकार शिक्षकों को उनके अधिकार देने से वंचित कर रही है। जिसके फलस्वरुप बिहार के सभी 4.5 लाख नियोजित शिक्षक 17 फरवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए है। उन्होंने कहा कि यह शिक्षक तब तक हड़ताल पर रहेंगे जब तक बिहार सरकार उनकी जायज मांगों को पूरी नहीं कर देती है।बताया कि अपने हक को पाने के लिए संघर्ष करना अधिकार है शिक्षक हड़ताल के दौरान सभी शैक्षणिक कार्य ठप रखेंगे।हड़ताल के दौरान शिक्षक सरोज कुमार सिंह ने कहा कि हमारी मांग पर सरकार हठधर्मिता अपना रही है। राज्य का सीएम मौन है। सीएम का मौन ब्रत चलने वाला नहीं है। उनके द्वारा लोकतंत्र का सरेआम हत्या किया जा रहा है। शिक्षक ने कहा कि अगर उनकी मांगे पूरी नहीं होती है तो आने वाले विधानसभा चुनाव के दौरान सुशासन बाबू को खुली चुनौती देने की बात कही है।मौके पर शिक्षक धर्मेंद्र कुमार श्रीवास्तव,हरेंद्र कुमार,अंशु पांडे, शेखर, सनोज सिंह, मोइनुल इस्लाम ,अमित कुमार सिंह,बिपरेंद्र, संजय पासवान, नेसार अहमद,गौतम राम, हिमांचल सिंह,मनीष कुमार रजक,संजय राय,हेमन्त पाठक, नरेंद्र पांडे,मनीष भारती,शैलेश सिंह,काशिफ रजा,राजकुमार सिंह,नीरज राम, शहाबूद्दीन, सूर्यमणि,चुन्नू सिंह,घनश्याम तिवारी,प्रसन्न कुमार आदि मौजूद थे।
___________________________________________
बिहार दर्पण न्यूज़ एप्स डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें 

👇🏻👇🏻💯💯👇🏻👇🏻

______________________________________________