Headlines
Loading...
एएनएम भुखे मरने को विवश ,छ: माह से नहीं मिल रहा वेतन

एएनएम भुखे मरने को विवश ,छ: माह से नहीं मिल रहा वेतन


 कोराना त्रासदी एवं सम्पूर्ण लाॅकडाउन के बीच आम लोग हीं नहीं बल्कि सरकारी अस्पतालों में कार्यरत नवनि"भुखे भजन न होय गोपाला ,लेलो अपनी कंठी माला" वाली पंक्ति फिट बैठने लगी है। अपनी भुखमरी की कहानी सुनाते हुए नवनियुक्त एएनएम कुमारी निगम , बेबी कुमारी ,बबीता कुमारी ,नुतन कुमारी ,मिन्टु कुमारी आदि नें बताया कियुक्त कुल 31एएनएम के समक्ष भी भुखमरी की समस्या उत्पन्न हो गयी है। विगत छ:माह से वेतन नहीं मिलने के कारण  स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव के पत्रांक 294(12) दिनांक 03 मार्च 2020 के माध्यम से तीन अरब पचासी कडो़ड अनठानवे लाख चौसठ हजार का आवंटन जिले के सिविल सर्जन को वेतन आदि भुगतान हेतु आवंटित की गयी । मगर अबतक हमलोगों के खातों में एक पाइ भी नहीं आया है । वेतन भुगतान को लेकर हमलोगों का प्रतिनिधि मंडल सिविल सर्जन से मिलकर वेतन भुगतान हेतु कयी बार गुजारिश की गयी । मगर अबतक भुगतान की दिशा में कोइ पहल नहीं की गयी है। उपरोक्त नवनियुक्त सभी एएनएम नें अतिशीघ्र वेतन भुगतान की मांंग जिलाधिकारी को आवेदन के माध्यम से की है । वेतन का आभाव झेल रहे प्रियंका कुमारी ,श्वेता कुमारी ,सुजाता कुमारी ,कंचन कुमारी ,बबीता कुमारी ,सुषमा कुमारी ,प्रिति रानी ,पुजा कुमारी आदि नें सिविल सर्जन के प्रति रोष प्रकट किया है।