Headlines
Loading...
भारतीय मित्र पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष  धनेश्वर महतो को   जान से मारने की धमकी।।

भारतीय मित्र पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष धनेश्वर महतो को जान से मारने की धमकी।।



भारतीय मित्र पार्टी के निवास पर प्रेस वार्ता भारतीय मित्र पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने की  महतो ने कहा 5 अप्रैल को माननीय प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी जी  नीतीश कुमार जी योगी आदित्यनाथ जी का पुतला दहन किया हमने उसके बाद सैकड़ों की संख्या में जान से मारने की धमकी भारतीय जनता पार्टी आर एस एस के कार्यकर्ताओं द्वारा मिली है प्रधानमंत्री के खिलाफ मुंह खोलो गे तो जिंदा नहीं रहोगे जिसकी कॉल रिकॉर्डिंग में आप लोग को दे रहा हूं 1 सप्ताह में पुलिस के हवाले सिलेंडर कर दो वरना तुम्हारा पता नहीं चलेगा पिछले 70 सालों में कई सरकारें बनी लेकिन ऐसी स्थिति कभी नहीं हुआ जैसा अभी वर्तमान में जब से मोदी सरकार देश में आई है तब से ऐसा लगता है मोदी सरकार को कि जितने विपक्षी दल हैं उन को समाप्त कर दिया जाए यह लोकतंत्र की पहचान नहीं है यही तंत्र चल रहा है इस देश के अंदर जिसका जीता जागता उदाहरण अभी मुझे जान से मारने की धमकी मिली है वह है मैं प्रशासन से अपील करता हूं बिहार सरकार से अपील करता हूं उन दोषी व्यक्तियों को पकड़कर उचित कार्रवाई जो हो उन पर किया जाए और यदि प्रशासन को लगता है

कि नहीं मुझे खतरा है बिहार सरकार को यदि लगता है कि मेरी जान की खतरा है तुम मुझे सुरक्षा मुहैया कराए और यदि उनको लगता है कि नहीं मेरी जान को खतरा नहीं है तो मैं उनसे सुरक्षा भी नहीं मांगूंगा यह सोचना राज्य सरकार और मधुबनी एसपी साहब का काम है क्योंकि बेहतर यह लोग समझ सकते हैं यदि इस बीच में मेरे या मेरे परिवार के साथ किसी भी तरह की जान माल का नुकसान होता है तो इसकी जवाबदेही मैं समझता हूं केंद्र सरकार और राज्य सरकार की होगी लॉक डॉन के अंदर केंद्र सरकार अपनी गलती ना स्वीकार करते हुए पूरे देश को आग की भट्ठी में झोंकने का काम किया है अचानक से आकर रात्रि 8:00 बजे 12:00 बजे से हम लव डाउन करने जा रहे हैं किसी इंसान को उसको घर तक नहीं पहुंचने दिया गया है कोई कहीं मर रहा है कोई कहीं मर रहा है और यदि इसका हम विरोध करते हैं तो हम देशद्रोही हैं हम यदि यूपी बिहार झारखंड के लोगों के लिए आवाज सरकार के सामने बुलंद कर रहे हैं

 उन मजदूर आदमियों के लिए गरीब आदमियों के लिए तो हम देशद्रोही हैं हमें जान से मार दिया जाएगा हमारी बातों को सरकार को ध्यान देने के बजाय वह अपने कार्यकर्ताओं से धमकी दिलवा रहे हैं विशेष और क्या कहूं राज्य सरकार और फिर से कह रहा हूं प्रशासन से इसकी उच्च स्तरीय जांच को कॉल रिकॉर्डिंग है और यदि सरकार को लगता है और प्रशासन को कि मेरी जान माल का खतरा है तो मुझे सुरक्षा मुहैया कराया जाए