Headlines
Loading...
मज़दूरों से 12 घंटे काम करवाना अमानवीय,लेबर एक्ट में छेड़छाड बर्दाश्त नहीं:- माँझी।

मज़दूरों से 12 घंटे काम करवाना अमानवीय,लेबर एक्ट में छेड़छाड बर्दाश्त नहीं:- माँझी।



  मज़दूरों से 8 घंटे की बजाए 12 घंटे काम कराए जाने को लेकर श्रम मंत्रालय द्वारा बनाए जा रहे क़ानून पर हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम माँझी ने कड़ा एतराज़ ज़ाहिर किया है।
 माँझी ने कहा कि हर तरह की पीड़ा झेल रहे देश के मज़दूरों के लिए सरकार का यह फ़ैसला उनकी आत्मा को मारने का फ़ैसला होगा।एक तरफ़ जहां मज़दूर लॉकडाउन के कारण भूखे मरने पर विवश हैं वहीं दूसरी तरफ श्रम मंत्रालय का यह घातक फ़ैसला उनके घाव पर नमक छिड़कने के अलावा और कुछ नहीं।माँझी ने कहा कि विपदा की मार झेल रहे मज़दूरों के लिए सरकार को मज़दूरी बढ़ाने की आवश्यकता थी पर सरकार ने उनकी मजबूरी का फ़ायदा उठाते हुए उनकी ऊपर ज़ुल्म ढाना शुरू कर दिया है जिसका नतीजा है कि सरकार मज़दूरों 8 घंटे की बजाए 12 घंटे काम कराने की अधिसूचना जारी कर रही है ।माँझी ने कहा कि अगर सरकार ने अपने इस फ़ैसले पर पुनर्विचार नहीं किया तो देश में बग़ावत हो जाएगा जो देश के तख्तो ताज को हिलाकर रख देगा।

धीरज झा, पटना