Headlines
Loading...
राजधानी पटना में दुकानों को खुलने का दिन निर्धारित, जानिए कब कौन सी दुकानें खुलेंगी।।

राजधानी पटना में दुकानों को खुलने का दिन निर्धारित, जानिए कब कौन सी दुकानें खुलेंगी।।



पटना : कोरोना वायरस की वजह से देश में चौथे चरण का लॉकडाउन चल रहा है । इसको लेकर लोगों पर आर्थिक संकट का बोझ बढ़ गया है । इस संकट को देखते हुए सरकार ने लोगों के लिए नियमों में कुछ नरमी बरती है । राजधानी पटना में भी दुकान लॉकडाउन के दौरान बाजार में दुकान खुलने के दिन निर्धारित किए गए । पटना जिलाधिकारी कुमार रवि ने इस बाबत एक अधिसूचना जारी की है । इसमें दुकानों प्रतिष्ठानों को छः श्रेणियों में बांटते हुए उन्हें खोलने के संबंध में निम्न प्रकार से दिन का निर्धारण किया गया है । प्रत्येक श्रेणी के दुकान प्रतिष्ठान शाम 6 बजे तक ही खोले जाएंगे ।

श्रेणी 1:- प्रतिदिन खुलने वाली दुकानें एवं प्रतिष्ठानों की सूची -
जिसमें किराना दुकान, डेयरी मिल्क/बूथ, मेडिकल/दवा की दुकान, सभी हस्पताल, निजी क्लिनिक, होम डिलीवरी सेवा (रेस्टोरेंट आदि से), ई-कॉमर्स सेवा, अनाज मंडी, फल/सब्जी मंडी, कृषि कार्य से जुड़े सभी प्रतिष्ठान, पशु चारा की दुकान, मीट एवं मछली की दुकानें, ऑटोमोबाइल/वर्कशॉप/गैरेज/ सर्विसिंग सेंटर, जिसमे अन्य आवश्यक आपातकालीन सेवाएं भी शामिल हैं ।

श्रेणी 2 :- सोमवार, बुधवार, शुक्रवार को खुलने वाली दुकानें एवं प्रतिष्ठानों की सूची-
१) इलेक्ट्रिकल गुड्स - पंखा, कूलर, एयर-कंडीशनर्स (विक्रय एवं मरम्मत)
२) इलेक्ट्रॉनिक गुड्स - यथा, मोबाइल, कंप्यूटर, लैपटॉप, यूपीएस एवं बैटरी (विक्रय एवं मरम्मत)
३) ऑटोमोबाइल्स - टायर एवं ट्यूब (मोटर वाहन/ मोटरसाइकिल/स्कूटर मरम्मत सहित)
४) निर्माण सामग्री के भंडारण एवं बिक्री के संबंधित प्रतिष्ठान - सीमेंट, स्टील, बालू, स्टोन, गिट्टी, सीमेंट ब्लॉक, ईट, प्लास्टिक पाइप, हार्डवेयर सैनिटरी फिटिंग, लोहा, पेंट, शटरिंग सामग्री ।
५) ऑटोमोबाइल स्पेयर पार्ट्स की दुकानें ।
६) हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट की दुकान ।
७) निजी कार्यालय, 33 प्रतिशत कर्मियों के उपस्थिति के साथ
८) शैक्षणिक संस्थानों के कार्यालय, 33 प्रतिशत कर्मियों के उपस्थिति के साथ

श्रेणी 3 :- मंगलवार, गुरुवार, शनिवार को खुलने वाली दुकानें एवं प्रतिष्ठानों की सूची -
१) कपड़ा की दुकान रेडीमेड वस्त्र की दुकान सहित (२) ड्राई क्लीनर्स की दुकान
(३)साइकिल/साइकिल मरम्मत की दुकान (४) स्पोर्ट्स, खेलकूद सामग्री की दुकानें (५) निजी क्लीनिक (६) फर्नीचर की दुकानें
(७) बर्तन की दुकानें (८) सोना चांदी की दुकानें (९) जूता चप्पल की दुकानें (१०) अन्य सभी दुकान जो किसी सूची में नहीं हो।

श्रेणी 4 :- शॉपिंग कॉम्प्लेक्स/मार्केट कॉम्प्लेक्स में अवस्थित दुकान एवं प्रतिष्ठान का संचालन -
शॉपिंग कॉम्पलेक्स व मार्केट कॉम्पलेक्स मैं अवस्थित दुकानों प्रतिष्ठानों के लिए मार्केट कॉम्पलेक्स के संचालक, सक्षम समिति के द्वारा दुकानों प्रतिष्ठानों को एक एक दुकान छोड़कर इस प्रकार खोला जाएगा कि परिसर में भीड़ की स्थिति उत्पन्न ना हो । उसके लिए दुकानों को दो रंग (सम-विषम) के आधार पर चिन्हित कर दिया जाएगा । इस प्रकार आधे दुकानों को सोमवार बुधवार एवं शुक्रवार तथा आधी दुकानों को मंगलवार बृहस्पतिवार एवं शनिवार को खोला जाएगा, चाहे दुकानों की प्रकृति जो भी हो। उपरोक्त के अनुसार सुस्पष्ट प्रस्ताव संबंधित अनुमंडल पदाधिकारी को समर्पित किया जाएगा, जो संतुष्ट होकर निम्नांकित शर्तों के अनुसार मार्केट कॉम्पलेक्स को खोलने की अनुमति देंगे ।

श्रेणी 5 :- शॉपिंग मॉल में अवस्थित दुकानों का संचालन -
गृह मंत्रालय भारत सरकार के आदेश अनुसार शॉपिंग मॉल में अवस्थित दुकानें बंद रहेंगी ।

श्रेणी 6 :- सभी प्रखंड मुख्यालय (रेड जोन) में अवस्थित दुकानों का संचालन -
अपर मुख्य सचिव, गृह विभाग, बिहार, पटना के आदेश संख्या - 317/ दिनांक 18-05-2020 द्वारा प्रखंड मुख्यालय (जिला मुख्यालय को छोड़कर) को रेड जोन के रूप में चिन्हित एवं घोषित किया गया है । अतः प्रखंड मुख्यालय (रेड जोन) में मात्र श्रेणी -1 के सभी दुकान प्रतिष्ठान एवं श्रेणी - 2 की कडिका - १ से ४ तक के सभी दुकान एवं प्रतिष्ठान खोले जा सकेंगे ।
आपको बता दें कि जिलाधिकारी ने लोगों के लिए भी आदेश जारी किया है । सभी लोगों के लिए अनिवार्य होगा कि वह अपने आवासीय क्षेत्र के निकट की दुकानों से ही खरीदारी करें । दुकानों और कार्यालयों में सभी के लिए मास्क पहनना अनिवार्य होगा । दुकानों और कार्यालय के काउंटर पर दुकानदार साबुन, सैनिटाइजर आवश्यक रूप से रखेंगे । जो वहां के कर्मियों और ग्राहकों के उपयोग के लिए निशुल्क उपलब्ध रखेंगे । दुकान और कार्यालय परिसर में सोशल डिस्टेंसिंग मानको(2 गज की दूरी) का अनुपालन किया जाएगा । इसके लिए सफेद गोला बनाना अनिवार्य होगा । सर्दी खांसी के लक्षणों वाले किसी भी व्यक्ति को काम करने या काउंटर के पास आने की अनुमति नहीं होगी ।
जिलाधिकारी कुमार रवि ने सभी अनुमंडल पदाधिकारी और अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को आदेश का शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया है, साथ ही उल्लंघन करने वालों के विरुद्ध आपदा प्रबंधन अधिनियम की धाराओं के तहत कठोर कार्रवाई करने का निर्देश दिया ।

धीरज झा