Headlines
Loading...
मांझी ने सुमो को दिया धन्यवाद, कहा SC/ST मामले को लेकर सुशील मोदी का बयान सराहनीय !

मांझी ने सुमो को दिया धन्यवाद, कहा SC/ST मामले को लेकर सुशील मोदी का बयान सराहनीय !






पटना : बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के SC/ST समाज में क्रीमीलेयर प्रावधान का विरोध और SC/ST के प्रमोशन में आरक्षण के पक्ष में दिए बयान का हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा सेक्यूलर के राष्ट्रीय अध्यक्ष और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने स्वागत किया है ।

मांझी ने कहा है कि SC/ST के हित को देखते हुए सरकार को चाहिए कि दलित आदिवासियों को निजी क्षेत्रों में आरक्षण के साथ-साथ न्यायपालिका में आरक्षण एवं SC/ST एक्ट को संविधान के नौंवी सूची में रखने के साथ-साथ SC/ST प्रमोशन मामले को भी संविधान की नौवीं सूची में शामिल करने के लिए विशेष कैबिनेट बैठक करें और उक्त मामले पर समाज हित में फैसला लेकर एक नजीर कायम करें, तब जाकर SC/ST एक्ट के अनुपालन एवं आरक्षण में छेड़छाड़ की घटना रुक पाएगी ।

माझी ने केंद्र की मोदी सरकार से अनुरोध करते हुए कहा कि भारत सरकार पर समुचित प्रभाव का उपयोग कर (चूंकि अभी भाजपा नीत केंद्र सरकार पर फैसला लेने में सक्षम है ) प्रमोशन में आरक्षण एवं SC/ST एक्ट को नौंबी सूची में डालने तथा निजी क्षेत्रों एवं न्यायपालिका में आरक्षण दिलाने तथा अखिल भारतीय न्यायिक सेवा का गठन कर हिंदुस्तान के SC/ST समाज को न्याय दिलाने का काम करने की कृपा करें । हम सभी SC/ST के लोग आपके प्रति कृतज्ञ होंगे और इस कार्य से बाबा साहब का सपना भी पूरा होगा ।

मांझी ने बाबा साहब की किताब फेडरेशन वर्सेस फ्रीडम का जिक्र करते हुए कहा कि उक्त किताब में बाबा साहब अंबेडकर ने स्पष्टता के साथ कहा है कि जब तक वंचित तबके के लोगों को न्यायपालिका में भागीदारी नहीं मिलेगी तब तक वह तबका न्याय से वंचित रहेगा, क्योंकि पीड़ित ही हर सकता है उत्पीड़न की व्याख्या । इसलिए जो कोई भी भारत को बाबा साहब अंबेडकर का भारत बनाना चाहता है उन सब की जवाबदेही बनती है कि वह उनके सपनों को पूरा करने के लिए उनके बताए रास्ते पर चलें और उनके सुझाव को माने ।

रिपोर्ट धीरज झा