Headlines
Loading...
पेट्रोल डीजल के मूल्य वृद्धि के खिलाफ सपा ने फूंका पीएम मोदी का पुतला ।

पेट्रोल डीजल के मूल्य वृद्धि के खिलाफ सपा ने फूंका पीएम मोदी का पुतला ।



मुंगेर : अन्य देशों के अपेक्षा भारत में लगातार पेट्रोलियम पदार्थ की मूल्यवृद्धि  से आक्रोशित समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री का पुतला फूंक इस्तीफे की मांग की। समाजवादी पार्टी के दर्जनों कार्यकर्ता प्रखंड अध्यक्ष रंजीत यादव  एवं नगर अध्यक्ष अमर शक्ति के संयुक्त नेतृत्व में मारवाड़ी  धर्मशाला जमालपुर से प्रदर्शन करते हुए जुबली बेल चौक पहुंच प्रधानमंत्री के पुतले को आग में झोंका, इस दौरान सपाई पेट्रोलियम पदार्थ की मूल्यवृद्धि वापस लो नरेंद्र मोदी इस्तीफा दो आम आवाम को छलना बंद करो , जनता की जेब में डाका डालना बंद करो आंदोलनकारियों पर लाठी चलाना बंद करो, मुलायम अखिलेश पप्पू जिंदाबाद आदि नारे लगा रहे थे। मौके पर नगर अध्यक्ष अमर शक्ति ने कहा कि जब से नरेंद्र मोदी की सरकार सत्तारूढ़ हुई है तब से भारत का हर वर्ग तबाह है उन्होंने आगे कहा कि पेट्रोलियम पदार्थ में लगातार वृद्धि से साफ जाहिर होता है कि सरकार सीधा सीधा आम आवाम के जेबों पर डाका डाल रही हैं ऐसे सरकार को राष्ट्र हित में अभिलंब इस्तीफा देना चाहिए ।वहीं प्रखंड अध्यक्ष रंजीत यादव ने डीजल के मूल्य में बेतहाशा वृद्धि को सरकार की विफलता बताते हुए कहा कि डीजल के दामों में अप्रत्याशित वृद्धि किसानों की कमर तोड़ देगी उन्होंने आगे कहा कि डीजल की मूल्यवृद्धि किसानों के साथ धोखा है, यह सरकार पेट्रोलियम पदार्थो की मूल्यवृद्धि कर एक बार फिर साबित कर दिया कि इस सरकार को जनता से कोई सरोकार नहीं वहीं जिला मीडिया प्रभारी मनोज कांति नगर उपाध्यक्ष डॉक्टर सुधीर गुप्ता संजय यादव नगर मीडिया प्रभारी कुमार प्रभाकर ने कहा की पेट्रोलियम पदार्थों की मूल्यवृद्धि के सवाल को लेकर आंदोलन कर रहे  समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज की निंदा करते हुए कहा कि इस सवाल पर समाजवादी पार्टी खामोश नहीं बैठेगी और इस अलोकतांत्रिक कदम का देश में राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और जिले में जिला अध्यक्ष पप्पू यादव के नेतृत्व में जवरदस्त विरोध करेगी। मौके पर  रूपेश कुमार छोटू रूपेश कुमार छोटू आशीष कुमार गुंजन यादव दिनेश  साहू मिठ्ठे यादव सुरेंद्र साहू राजकुमार, रूपेश कुमार ठाकुर, शंभू ताँती शक्ति साहू, संजय दास भोला साहू भीम दास सहित दर्जनों लोग उपस्थित थे।

धीरज झा