Headlines
Loading...
सड़क हादसे में युवक की मौत अस्पताल में डॉक्टर के गायब रहने से भड़के लोग।।

सड़क हादसे में युवक की मौत अस्पताल में डॉक्टर के गायब रहने से भड़के लोग।।



शेखपुरा में सड़क हादसे में घायल हुए युवक को अस्पताल लाने के बाद मौत डॉक्टर के गायब रहने से लोग भड़क गए लोगों का आरोप है कि सदर अस्पताल में रात्रि ड्यूटी के समय कोई भी चिकित्सक नहीं होने से इलाज में लापरवाही हुई जिसके कारण युवक की मौत हो गई मृतक की पहचान शेखपुरा सदर के इंदौर मोहल्ला निवासी नुनु लाल उर्फ मनीष कुमार के रूप में की गई है उधर परिजनों का आरोप है कि रात में घर लौटने के क्रम में वाहन की चपेट में आने से युवक हादसे का शिकार हो गया इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया गया परंतु अस्पताल में कोई डॉक्टर ड्यूटी पर नहीं थे कंपाउंडर के द्वारा प्राथमिक उपचार कर रेफर कर दिया गया रास्ते में युवक की मौत हो गई उधर सदर अस्पताल में भारी संख्या में लोग जमा हो गए पोस्टमार्टम करने के लिए कोई चिकित्सक अभी अस्पताल नहीं पहुंच रहे हैं।
वहीं राजद नेता विजय सम्राट ने आरोप लगाते हुए कहा है कि युवक की मौत डॉक्टर के गायब रहने की वजह से हुई है सदर अस्पताल में आधे से अधिक डॉक्टर गायब रहते हैं नालंदा के डॉक्टर सभी ड्यूटी करने अस्पताल नहीं आते इसकी शिकायत बरी अधिकारियों से लेकर सरकार तक की गई है।
वही लोजपा जिला अध्यक्ष इमाम गजाली ने भी इस घटना की कड़ी निंदा करते हुए डीएम से मांग किया है कि ऐसे डॉक्टर जो अस्पताल में उपस्थित नही रहते है जिसकी बजह से इलाज के अभाव में मौत हो जाती है ऐसे डॉक्टरों पर कार्रवाई की जाय।वही जिला अध्यक्ष ने डीएम से मांग किया है कि मृतक के परिजन को उचित मुआबजा दिया जाय ताकि मृतक के गरीब असहाय परिजनों को सहयोग मिल सके।हरहाल डॉक्टरों का सुसान कि सरकार में अस्पताल से नदारद रहना ये कोई नई बात नही है अब देखना तह लाजमी होगा कि सरकार इस मसले को कैसे हल करती है और मृतक गरीब मनीष के परिजनों को क्या सरकारी सहायता मिल पाती है ।

धीरज झा