Headlines
Loading...
कोरोना की रोकथाम को लेकर किये जा रहे कार्यों का सरकार ने विस्तृत विवरण प्रस्तुत किया!।

कोरोना की रोकथाम को लेकर किये जा रहे कार्यों का सरकार ने विस्तृत विवरण प्रस्तुत किया!।




सचिव सूचना एवं जन-सम्पर्क, सचिव स्वास्थ्य एवं अपर पुलिस महानिदेशक, पुलिस मुख्यालय ने कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर किये जा रहे कार्यों की अद्यतन जानकारी दी
पटना,
वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मीडिया के साथ संवाद। सचिव सूचना एवं जन-सम्पर्क श्री अनुपम कुमार, सचिव स्वास्थ्य श्री लोकेश कुमार सिंह एवं अपर पुलिस महानिदेशक, पुलिस मुख्यालय श्री जितेन्द्र कुमार ने कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर सरकार द्वारा किये जा रहे कार्यों के संबंध में अद्यतन जानकारी दी।
सचिव, सूचना एवं जन-संपर्क श्री अनुपम कुमार ने बताया कि कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति को लेकर लगातार आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। लॉकडाउन के कारण बिहार के बाहर रहनेवाले अधिकाँश लोग लौटकर अपने गृह राज्य आए हैं, उनके रोजगार के लिए सरकार लगातार प्रयत्नशील है| रोजगार सृजन पर सरकार का विशेष ध्यान है और इसके लिए कई काम किये गये हैं| इस वर्ष फरवरी, मार्च और अप्रैल माह में असामयिक वर्षापात और ओलावृष्टि के कारण किसानों की हुयी फसल क्षति के लिए सरकार द्वारा कृषि इनपुट अनुदान के तहत 730 करोड़ रूपये की राशि स्वीकृत की गयी है। इसमें से अब तक 547 करोड़ 81 लाख से ज्यादा की राशि कुल 17 लाख 73 हजार से अधिक किसानों के खाते में अंतरित की जा चुकी है। शेष किसानों के आवेदनों का निष्पादन तेजी से किया जा रहा है और जांचोपरांत यथाशीघ्र कृषि इनपुट अनुदान की राशि प्रभावित किसानों के खाते में भेज दी जायेगी।
श्री अनुपम कुमार ने बताया कि अभी तक गैर राशन कार्डधारी सुयोग्य परिवारों के लिए 22 लाख 02 हजार नये राशन कार्ड बनाये जा चुके हैं। 25 जून से राशन कार्ड का वितरण भी प्रारंभ हो गया है और अब तक 14,100 नये राशन कार्ड वितरित किये जा चुके हैं। खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग ने 15 जुलाई तक नये राशन कार्ड का वितरण पूर्ण कराने का लक्ष्य निर्धारित किया है। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन पीरियड से लेकर अभी तक 4 लाख 67 हजार से अधिक योजनाओं के अंतर्गत लगभग 8 करोड़ 46 लाख से अधिक मानव दिवसों का सृजन किया जा चुका है।
स्वास्थ्य विभाग के सचिव श्री लोकेश कुमार सिंह ने बताया कि पिछले 24 घंटे में 189 लोग स्वस्थ हुए हैं। उन्होंने बताया कि अब तक कुल 6,669 कोरोना संक्रमित मरीज पूर्ण स्वस्थ होकर अपने घर वापस जा चुके हैं जो कुल संक्रमित मरीजों का 77 प्रतिशत है| अब बिहार के 38 जिलों में कोरोना संक्रमण के 1,885 एक्टिव मामले हैं। उन्होंने बताया कि अब तक कुल 1 लाख 89 हजार 643 सैंपल्स की जांच की गयी है। कल 7,906 सैंपल्स की जांच की गयी और टेस्टिंग कैपेसिटी लगातार बढ़ायी जा रही है। अपर पुलिस महानिदेशक, पुलिस मुख्यालय श्री जितेन्द्र कुमार ने बताया कि 1 जून 2020 से गृह मंत्रालय द्वारा जारी की गयी नई गाइडलाइन्स का अनुपालन कराया जा रहा है। 1 जून से अब तक कुल 26 एफ0आई0आर0 दर्ज की गयी हैं और 66 लोगों की गिरफ्तारियां हुई हैं। इस दौरान 20,068 वाहन जब्त किये गये हैं। इससे कुल 5 करोड़ 17 लाख 03 हजार 810 रुपये की राशि जुर्माने के रूप में वसूल की गयी है। पिछले 24 घंटे में अवरोध पैदा करने के दौरान 388 वाहनों को जब्त किया गया है और 15 लाख 28 हजार 400 रूपये की राशि जुर्माने के रूप में वसूल किये गये हैं। कोविड-19 से निपटने के लिये उठाये जा रहे कदमों और नये दिशा-निर्देशों का पालन करने में अवरोध पैदा करने वालों के खिलाफ सख्ती से कदम उठाये जा रहे हैं। श्री जितेन्द्र कुमार ने बताया कि बिहार सरकार द्वारा सभी विभागों के कार्यालयों में ई-ऑफिस का प्रोजेक्ट लगाया जा रहा है| कोरोना संक्रमण को देखते हुए पुलिस मुख्यालय भी इसमें बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहा है ताकि पुलिस मुख्यालय के साथ-साथ सभी क्षेत्रीय कार्यालयों में जल्दी से जल्दी हम पेपरलेस ऑफिस की तरफ बढ़ सकें| इससे डाक के आदान-प्रदान के लिए लोगों का जो भ्रमण होता है या फ़ाइल के माध्यम होनेवाले सम्पर्क पर रोक लगेगी| इसके लिए अब तक 240 व्यक्तियों को प्रशिक्षण दिया जा चुका है और हमलोगों को उम्मीद है कि शीघ्र ही इसे लागू कर देंगे|

रवि शंकर शर्मा