Headlines
Loading...
पुलिस ने की भाड़ी मात्रा में अवैध शराब बरामद।।

पुलिस ने की भाड़ी मात्रा में अवैध शराब बरामद।।




 एक तरफ बिहार के सुशासन बाबू शराब बंदी पर कड़ी कानून बनाए हुए हैं वहीं दूसरी तरफ शराब माफिया कानून की धज्जियां उड़ाते हुए शराब के कारोबार को करने से कोई परहेज नही करते हैं ।आपको बता दें कि खिजरसराय के एक फ्लॉवर मिल से पुलिस ने 314 लीटर 625 ग्राम अंग्रेजी शराब, 62 लीटर पांच सौ ग्राम बीयर और 810 किलो महुआ जब्त किया है । खिजरसराय बाईपास पर स्थित शिव भोग फ्लॉवर मिल पर पुलिस को भारी मात्रा में शराब के रखे होने की सूचना मिली थी । जिसके बाद देर रात 12 बजे पुलिस ने उक्त मिल को अपने नियंत्रण में लेकर तलाशी अभियान शुरू की । थानाध्यक्ष अजय कुमार के नेतृत्व में शुरू किए गए इस अभियान में जल्द ही पुलिस को सफलता हाथ लगी । आंटे की बोरियों के बीच कार्टून में रखे गए अंग्रेजी शराब के मिलने से शुरू हुआ यह सिलसिला महुआ की 18 बोरियों के बरामद होने तक जारी रहा । हैरानी की बात तो यह है कि ये कारोबार थाना से महज एक किलोमीटर की दूरी पर चल रहा था । इतने बड़े नेटवर्क व बरामद शराब के मिलने से पुलिसकर्मी भी दंग थे । पुलिस ने मौके पर मौजूद रामप्रीत चौधरी को तुरन्त गिरफ्तार कर लिया । वहीं फ्लॉवर मिल मालिक शिवराज चौधरी व उनके एक अन्य सहयोगी कृष्ण कुमार के खिलाफ पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज की है । मिल मालिक शिवराज चौधरी व एक अन्य आरोपी कृष्णा कुमार फरार है । पुलिस ने फ्लॉवर मिल को शील कर दिया है।
भागने में शिवराज चौधरी की पत्नी का पैर टूटा
छापेमारी अभियान के बाद पुलिस एक बार फिर तड़के सुबह फ्लॉवर मिल के पास पहुंची । गौरतलब है कि फ्लॉवर मिल के विपरीत दिशा में मिल मालिक का घर है । पुलिस को एक बार फिर से आते देख मिल मालिक की पत्नी ने छत से छलांग लगा दी । छत से नीचे गिरने  की वजह से उसका पैर टूट गया । वहीं पुलिस टीम में महिला सिपाही नहीं होने की वजह से उन्हें गिरफ्तार नहीं किया । पैर टूटने के बाद भी वह मौके से भागने से कामयाब हो गई।

पूर्व में भी शराब के अवैध धंधे के हैं आरोप

फ्लॉवर मिल मालिक शिवराज चौधरी के खिलाफ पूर्व में भी शराब निर्माण सामग्री के अवैध धंधे में शामिल होने के मामले खिजरसराय थाना में दर्ज है । स्थानीय लोगों को पहले से भी उसकी गतिविधियों पर संदेह होता था । उनके राजनीतिक रसूख भी रहे हैं । इस वजह से कोई भी उनके खिलाफ आवाज उठाने की हिम्मत नहीं करता था । ताजा घटनाक्रम में पुलिस के वरीय पदाधिकारियों को गुप्त सूचना मिली थी । जिसके बाद स्थानीय पुलिस ने सफलतापूर्वक उसके ठिकानों पर कार्रवाई की व भारी मात्रा में शराब बरामद की ।