Headlines
Loading...
नोनिया जाति को ST में शामिल करने को लेकर  ANSS ने की वर्चुअल रैली।।

नोनिया जाति को ST में शामिल करने को लेकर ANSS ने की वर्चुअल रैली।।



मुज़फ़्फ़रपुर शहर के सिकंदरपुर चौक स्थित निजी विवाह भवन सभागार में अखिल नोनिया संयुक्त संघ ( ANSS ) के द्वारा वर्चुअल रैली किया गया। जिसकी अध्यक्षता ANSS के मुजफ्फरपुर  के राष्ट्रीय संयुक्त महासचिव कमलेश कुमार चौहान ने किया। इस दौरान इस वर्चुअल रैली में शामिल होने के लिए उत्तर प्रदेश से चलकर मुजफ्फरपुर पहुंचे नोनिया समाज के वरिष्ठ नेता  संजय सिंह चौहान ने कहा कि दुनिया बिहार का महत्वपूर्ण वोटर है । अगर सरकार हम लोगों की मांग समय रहते नहीं पूरा करती है तो इसका खामियाजा बिहार सरकार को आने वाले विधानसभा चुनाव में भुगतना पड़ेगा। हम सभी नोनिया समाज के संगठन एक साथ है और आगामी विधानसभा चुनाव में इस सरकार का बहिष्कार करेंगे पूरे बिहार में ।इस कोरोना महामारी में  शारीरिक दूरी को पालन करते हुए यह बैठक किया गया । जिसमें बैठक की अध्यक्षता कर रहे राष्ट्रीय संयुक्त महासचिव कमलेश कुमार चौहान ने कहा कि बीते समय बिहार सरकार का बयान जारी हुआ था कि नोनिया जाति को अनुसूचित जनजाति (ST) में शामिल करने के लिए बिहार सरकार प्रयासरत है, और अनुशंसा भारत सरकार को भेजे जाने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को मंजूरी दे दी है । जो कि आगामी विधानसभा चुनाव के एनवक्त पर हस्पद एवं छलावा लगता है, क्योंकि इन के 15 साल के कार्यकाल में एक बार भी यह प्रयास नहीं किया गया कि बिहार के नोनिया जाति को पहले बिहार में राज्य स्तर पर ही ST की सभी सुविधाएं लागू हो सके । सरकारी की यह घोषणा बिहार के नोनिया समाज को अनुसूचित जनजाति (ST) में शामिल करने की मंशा साफ नहीं दिख रहा है। बिहार सरकार पूरे बिहार के नोनिया बिंद बेलदार समाज के फिर से ठगने का काम कर रही हैं। जिसको इस समाज के लोग भली-भांति समझते हैं और अब वे इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे । आगे अब बिहार का नोनिया समाज अपने हक और हुकुम के लिए सड़क से लेकर विधानसभा घेरने एवं संघर्ष के लिए तैयार हैं । वहीं इस दौरान बैठक में मौजूद रहे नोनिया समाज के सुखदेव महतो,शम्भू महतो, सुशील महतो, चंदन कुमार, जयकिसशुन चौहान, विन्देश्वर महतो, सोनू चौहान, संतोष कुमार, रामबाबू , सुखदेव प्रसाद आदि लोग शामिल हुए ।