Headlines
Loading...
लॉकडाउन का सख्ती से पालन करवाने के लिए सड़क पर उतरे पुलिसकर्मियों ने किया फ्लैग मार्च

लॉकडाउन का सख्ती से पालन करवाने के लिए सड़क पर उतरे पुलिसकर्मियों ने किया फ्लैग मार्च




लखीसराय : जिलाधिकारी एसके चौधरी एवं पुलिस अधीक्षक सुशील कुमार के निर्देश पर जिले में वैश्विक महामारी कोविड-19 का प्रकोप तेजी से फैलने के चलते सोमवार से आगामी 19 जुलाई तक लगाए गए लॉकडाउन कार्यक्रम का सख्ती से अनुपालन करवाने के लिए क्यूल थाना अध्यक्ष धीरज कुमार के नेतृत्व में भारी संख्या में पुलिस कर्मियों की ओर से थाना क्षेत्र के विभिन्न इलाकों में फ्लैग मार्च कर माइकिंग एवं सायरन बजाकर जन सामान्य को लॉकडाउन अवधि के दौरान अपने अपने घरों में रहने की गुजारिश की गई। आवश्यकता पड़ने पर ही घर से बाहर आने की बातें कही गई। वरना पुलिस प्रशासन की ओर से वैसे लोगों के विरुद्ध कठोर दंडात्मक कार्रवाई किए जाने की अल्टीमेटम दी गई। 

थाना अध्यक्ष धीरज कुमार ने स्वयं माइकिंग करते हुए कहा की वैश्विक कोविड-19 महामारी के चलते उसकी रोकथाम उन्मूलन एवं बचाव के लिए जनहित में जिला प्रशासन की ओर से 13 जुलाई से 17 जुलाई तक संपूर्ण लॉकडाउन लागू किया गया है । लॉकडाउन अवधि के दौरान सभी प्रकार के आवश्यक सेवाओं को चालू रखा गया है। आवश्यक एवं अनिवार्य सेवाओं के अलावा अन्य किसी प्रकार के सेवाओं को चालू रखने का आदेश नहीं दिया गया है। इस परिस्थिति में लोगों के द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन किया जाना अनिवार्य है। सड़क पर आने के क्रम में अपनी एवं समाज की हिफाजत के लिए मास्क पहनना अनिवार्य होगा। मास्क नहीं पहनने वाले लोगों के खिलाफ जुर्माना वसूली की जाएगी। उन्होंने कहा कि किसी भी हालत में लॉकडाउन के साए में शराबियों एवं अन्य धंधेबाज तस्करों की तस्करी होने नहीं दिया जाएगा। 

थानाध्यक्ष ने कहा कि लॉकडाउन का सख्ती के साथ पालन नहीं करने वालों के खिलाफ कठोर दंडात्मक कार्रवाई किए जाएंगे। पुलिसिंग अभियान के दौरान एएसआई मोतिउर रहमान सहित भारी संख्या में सुरक्षा बलों के जवान भी मौजूद थे।

धीरज झा की रिपोर्ट