Headlines
Loading...
सुर्खियों में आई,, साइकिल गर्ल ज्योति की दुष्कर्म कर हत्या की सोशल मीडिया के द्वारा अफवाह फैलाने वालों पर मामला दर्ज।।

सुर्खियों में आई,, साइकिल गर्ल ज्योति की दुष्कर्म कर हत्या की सोशल मीडिया के द्वारा अफवाह फैलाने वालों पर मामला दर्ज।।

सुर्खियों में आई,, साइकिल गर्ल ज्योति की दुष्कर्म कर हत्या की सोशल मीडिया के द्वारा अफवाह फैलाने वालों पर मामला दर्ज।


धीरज झा
दरभंगा : लॉकडाउन के दौरान अपने बीमार पिता को गुरुग्राम से साइकिल पर बैठाकर दरभंगा पहुंचकर सुर्खियां बटोर चुकी ‘साइकिल गर्ल’ ज्योति के साथ दुष्कर्म और हत्या की खबर पिछले 24 घंटे से सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। जिसको लेकर दरभंगा के वरीय पुलिस अधीक्षक बाबूराम ने सोशल साइट पर आ रही खबर को पूरी तरह से बेबुनियाद और असत्य बताया। उन्होंने मामले को स्पष्ट करते हुए कहा कि जिले के पतोर सहायक थाना क्षेत्र के पतोर गांव में पिछले बुधवार को बागीचे से एक लड़की का शव बरामद किया गया था, जिसकी पहचान ज्योति पासवान के रूप में की गई। जिसे कुछ लोगों ने मृत ज्योति पासवान को साइकिल गर्ल ज्योति मानकर अफवाह फैला दी। वहीं एसएसपी ने बताया की ज्योति के पिता ने कमतौल थाना में सोशल मीडिया पर भ्रामक खबर फ़ैलाने वाले पोटर्ल व लोगो के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है।

*दोनों लड़कियों का नाम एक होने के कारण अफवाह पकड़ा तूल*

दरअसल सोशल मीडिया पर शनिवार सुबह अफवाह फैल गई कि  पिता को गुरुग्राम से दरभंगा लाने वाली साइकिल गर्ल के नाम से मशहूर ज्योति कुमारी जब आम तोड़ने गई तो उसके साथ दुष्कर्म करने के बाद उसकी हत्या कर दी गई। बिना सत्यता जाने लोगों में इस झूठी खबर को पोस्ट और शेयर करने की होड़ लग गयी। हालांकि दोनों लड़कियों का नाम एक होने के कारण इस अफवाह ने तूल पकड़ लिया। जबकि साइकिल गर्ल ज्योति के पिता का नाम मोहन पासवान और मृत ज्योति के पिता का नाम अशोक पासवान है। इस मामलों को लेकर वरीय पुलिस अधीक्षक काफी सख्त एक्शन मूड है। सोशल मीडिया पर इस तरह के भ्रामक तथ्य को पोस्ट करने वाले व्यक्तियों पर कार्रवाई करने का निर्देश कमतौल थाना प्रभारी को दिया है।

*पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृतिका के साथ बलात्कार की पुष्टि नहीं*

वही वरीय पुलिस अधीक्षक बाबूराम ने बताया कि पतोर थाना क्षेत्र में जो बच्चे की मृत्यु हुई थी। उसमें एसडीपीओ स्तर के टीम को लगाकर फरार चल रहे अभियुक्तों की गिरफ्तारी के दिशा में कार्य किए जा रहे हैं। वही उन्होंने कहा की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृतिका के साथ बलात्कार की पुष्टि नहीं हुई है। कुछ लोग सोशल मीडिया पर भ्रामक खबर पोस्ट कर माहौल बिगाड़ना चाहते हैं। साइकिल गर्ल ज्योति की तस्वीर के साथ इस घटना को जोड़कर जिस प्रकार भ्रामक खबर सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही है उसके खिलाफ ज्योति के पिता ने कमतौल थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई है। जिसमें एक वेब पोर्टल पर इस तरह के भ्रामक खबर चलाने का आरोप लगाया गया है। इस सम्बंध में कानूनी करवाई की जाएगी।

 *मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी के लिए की जा रही है छापेमारी*

गौरतलब है कि 01 जुलाई को दरभंगा जिला के ही पतोर सहायक थाना क्षेत्र के अशोक पासवान की 12 वर्षीय पुत्री ज्योति पासवान का शव उसके घर के बगल में अर्जुन मिश्रा के बागान में मिला था। आरोप है कि बागान मालिक ने अपने बाग  की रक्षा के लिये बिजली का नंगा तार फैला रखा था, जिसमें करंट था। इसकी  चपेट में आने से ज्योति की मौत हो गई। इस घटना के बाद स्थानीय लोगों, राजनीतिक दलों और परिवार के सदस्यों ने ज्योति के साथ दुष्कर्म होने का भी आरोप लगाया था। लेकिन 03 जुलाई की देर शाम आई पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में मृतका के साथ दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई  है। इस मामले का मुख्य आरोपी अभी भी फरार है।