Headlines
Loading...
 जन संघर्ष विराट पार्टी की घोषणा, कोरोना को हराकर आये योद्धाओं को, सर्टिफिकेट पेश करने पर संगठन के वरिष्ट डॉक्टरों द्वारा करेगी फ्री इलाज- डॉ कृष्ण किशोर।।

जन संघर्ष विराट पार्टी की घोषणा, कोरोना को हराकर आये योद्धाओं को, सर्टिफिकेट पेश करने पर संगठन के वरिष्ट डॉक्टरों द्वारा करेगी फ्री इलाज- डॉ कृष्ण किशोर।।

*पटना (बिहार) : जन संघर्ष विराट पार्टी की घोषणा, कोरोना को हराकर आये योद्धाओं को, सर्टिफिकेट पेश करने पर संगठन के वरिष्ट डॉक्टरों द्वारा करेगी फ्री इलाज- डॉ कृष्ण किशोर।।
गजेन्द्र सिंह
पटना : जन संघर्ष विराट पार्टी चिकित्सा प्रोकोष्ठ अध्यक्ष डॉ कृष्ण किशोर ने घोषणा कर मीडिया को बताया की जो भी करोना को हराकर आये हैं वो प्लाज्मा डोनर बन देश को इस संकट से निकालने में मदद करें।जनसंघर्ष विराट पार्टी उन तमाम प्लाज्मा डोनर योद्धा को बढ़ चढ़ कर आगे आने के लिये उनका अभिनंदन करती है और उनके सर्टिफिकेट पेश करने पर उनकी इलाज अपने संगठन के वरिष्ट डॉक्टर के द्वारा फ्री करने की घोषणा करती है ।।
बिहार प्रभारी धर्मेन्द्र कुमार (धरम सिंह) और डॉ. कृष्ण कुमार के नेतृत्व में बाढ़ अनुमंडल अन्तर्गत अथमलगोला, कोरोना के समय अपना सेवा देने वाले बिहार पुलिस के सभी कर्मी को मास्क और सेनेटाइजर देकर उनका मनोबल बढ़ाया।
बिहार में पार्टी के तमाम पदाधिकारियों को ये संदेश दिया गया कि सभी पदाधिकारी अपने क्षेत्र में जनता और कोरोना योद्धा को हर तरह से मदद करें। बिहार में अभी कोरोना के साथ बाढ़ के कारण भी लोग अस्त व्यस्त हो गए हैं इसलिए अभी सभी युवा आगे आकर जन सेवा प्रदान करे ताकि हम सब मिलकर बिहार और देश को इस मुश्किल समय से बाहर निकाल सकें ।पार्टी के बिहार प्रभारी धर्मेन्द्र कुमार ने सत्ताधारी नेताओ पर  निशाना साधते हुए कहा कि जितना समय सरकार को मिला अगर अच्छे तरीके से कार्य किया जाता तो आज बिहार की स्थिति सामान्य होती। जानबूझ कर बिहार के जनता को इस कोरोना रूपी दलदल में धकेल दिया गया।सरकार सिर्फ कागज पे ही काम दिखाया यथार्थ में कुछ नही किया कोई तैयारी नही की यंहा तक अभी सरकार को अपनी पूरी सिस्टम को अपने हर विंग को विपक्ष को भी साथ लेकर बिहार को संभालने में लगाना चाहिए न कि चुनाव की तैयारी। जनता को चुनाव नही अपना सामान्य जीवन पहले चाहिए, लाखो लोग जो अपना रोजी रोजगार कर अपना जीवन यापन करते थे उनको उनका रोजगार चाहिए। अभी तो चुनाव की बात करने वालो को शर्म आनी चाहिए।