Headlines
Loading...
राज्य परिषद सदस्य शिशिर ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर सरकार पर लगाए कई गंभीर आरोप।।

राज्य परिषद सदस्य शिशिर ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर सरकार पर लगाए कई गंभीर आरोप।।

*मुंगेर (बिहार) : राज्य परिषद सदस्य शिशिर ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर सरकार पर लगाए कई गंभीर आरोप*


बिहार ब्यूरो धीरज झा की रिपोर्ट
मुंगेर : राजद के राज्य परिषद सदस्य शिशिर कुमार लालू, पंचायती राज प्रदेश महासचिव मनीष कुमार, प्रदेश सचिव दिनेश कुमार, पुर्व प्रदेश महासचिव सुबोध कुमार तांती, पुर्व जिला महासचिव रंधीर राय ने संयुक्त बयान जारी कर कहा...
 देश में महामारी का रूप धारण कर चुकी कोरोना वायरस वहीं इसके संक्रमित मरीजों का समुचित इलाज की चिंता छोड़ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अयोध्या में राम मंदिर के शिलान्यास करने जा रहे ये दिखाता है की देश के प्रधानमंत्री को न तो देश के लोगों के स्वास्थ्य के प्रति चिंता है न ही देश के गरीब, मजदूर किसान, नौजवान, महिला सहित देश की अर्थव्यवस्था के प्रति चिंता है। सरकारी संस्था बंद कर सभी बेचा जा रहा है। स्वास्थ्य सेवा से जुड़ी आई .एम.ए. के प्रमुख एवं एम्स के निदेशक खुले तौर पर कह रहे हैं की कोरोना वायरस का संक्रमण कौमनिटी स्प्रेड़ का रूप ले लिया है इसके बाबजूद लोगों की चिंता छोड़ ये कहा जा रहा है की मंदिर निर्माण के लिए दस करोड़ लोगों से चंदा लिया जाएगा। अच्छा होता कि लोगों को महामारी से बचाव हेतु अगर यह चंदा लिया जाता। लेकिन शर्म की बात है की लोग तराहीमाम हैं और सरकार आगामी होने वाले विधानसभा चुनाव को देखते हुए अपनी नाकामी को छुपाने के लिए एक फिर मंदिर निर्माण के नाम पर सांप्रदायिक ध्रवीकरण करने का प्रयास कर रही है।
वहीं बिहार की एन डी ए सरकार कोरोना के बढ़ते संक्रमण एवं बाढ़ की चिंता छोड़ वर्चुअल रैली कर रही है ऐसा लगता है कि इनके लिए जनता से ज्यादा जरूरी सत्ता की कुर्सी है। बिहार की स्वास्थ्य व्यवस्था पुरी तरह ध्वस्त हो गयी है न कहीं टेस्टींग है न कहीं आक्सिजन, न अस्पताल में बैड न ही डाक्टर की व्यवस्था है। सरकार एक साजिश के तहत टेस्टींग रोक कर अपनी लचर स्वास्थ्य व्यवस्था पर पर्दा डालने का प्रयास कर रही है। ऐसी स्थिति में राज्य परिषद सदस्य शिशिर कुमार लालू ने लोगों से आग्रह करते हुए कहा की ""क्यों न करें विचार नही चाहिए नीतिश कुमार ""