Headlines
Loading...
जमुई (बिहार) : पत्नी ने रचा था पति की हत्या का षड्यंत्र,डेढ़ माह बाद पुलिस ने किया गिरफ्तार।

जमुई (बिहार) : पत्नी ने रचा था पति की हत्या का षड्यंत्र,डेढ़ माह बाद पुलिस ने किया गिरफ्तार।

जमुई (बिहार) : पत्नी ने रचा था पति की हत्या का षड्यंत्र,डेढ़ माह बाद पुलिस ने किया गिरफ्तार*

By: बिहार झारखंड चीफ़ ब्यूरो धीरज झा

संवाददाता अमित कुमार सविता की रिपोर्ट

जमुई : सिकंदरा पुलिस ने पति की हत्या का षड्यंत्र रचने वाली हत्यारोपित पत्नी ममता कुमारी को गिरफ्तार कर शनिवार को जेल भेज दिया। हालांकि इस हत्याकांड का मुख्य आरोपित मृतक के पुत्र को पुलिस ने गिरफ्तार नही किया है।

वहीं इस संदर्भ में थानाध्यक्ष ध्रुव कुमार ने बताया कि गिरफ्तार आरोपित पत्नी को महिला कारागार पटना भेजा गया है। वहीं रमेश चौधरी हत्याकांड में की गई प्राथमिकी में उसके पुत्र का नाम नहीं दिया गया है। ऐसे में अनुसंधान के क्रम में सामने आने पर गिरफ्तारी की जाएगी।

आपको बता दें सिकन्दरा पुलिस ने इस हत्याकांड की गुत्थी को सुलझाने में डेढ़ माह लगा दी।जबकि पुलिस को सारी घटनाक्रम की जानकारी उसी वक्त मिल गई थी। जब पुलिस ने रमेश चौधरी की लाश को उसके घर से बंद आलमारी में बोरी में बंद बरामद किया था। उसके बाद भी पुलिस ने हत्यारोपित पत्नी को गिरफ्तार करना मुनासिब नहीं समझा।

दरअसल पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने की बातों में मामले को उलझा कर रख दिया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जब यह बात सामने आ गई कि उसे लोहे के रड से उसके सर पर प्रहार किया गया है। जिससे उसकी मौत हुई है। यहां तक की पोस्टमार्टम ने यह भी साबित कर दिया कि हत्या दो दिन पूर्व की गई थी। लाश सड़ने के साथ दुर्गंध मार रहा था। सब कुछ देखते हुए भी पुलिस इस मामले में हत्या का केस दर्ज नहीं यूडी केस दर्ज कर ली थी।

वहीं मामला जब नव पदस्थापित पुलिस अधीक्षक जमुई के संज्ञान में गई तो तब जाकर थानाध्यक्ष ने आनन फानन में पति हत्यारोपित पत्नी को गिरफ्तार कर हत्या का मामला दर्ज किया। बहरहाल कुल मिलाकर इस हत्याकांड में ताड़ से गिरा खजूर पर अटका वाली कहावत चरितार्थ होते दिख रही है। ज्ञात हो कि बीते 21 जुलाई को सिकन्दरा पुलिस ने रमेश चौधरी की लाश को बरामद किया था।