Headlines
Loading...
रोजगार के लिए छात्रों ने पीटा थाली-ताली,आइसा के छात्रों ने भी पूरे बिहार में लिया हिस्सा-आइसा।।

रोजगार के लिए छात्रों ने पीटा थाली-ताली,आइसा के छात्रों ने भी पूरे बिहार में लिया हिस्सा-आइसा।।

रोजगार के लिए छात्रों ने पीटा थाली-ताली,आइसा के छात्रों ने भी पूरे बिहार में लिया हिस्सा-आइसा।।


बिहार झारखंड ब्यूरो चीफ़ धीरज झा

पटना : शिक्षक दिवस के अवसर पर देश के लाखों छात्र 5 बजकर 5 मिनट में थाली-ताली पिट कर रोजगार के आवाज को बुलंद किया। छात्र संगठन आइसा और सेव रेलवे जॉब से जुड़े छात्र भी पूरे बिहार में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया। वहीं आइसा के बिहार राज्य सह सचिव और सेव रेलवे जॉब आंदोलन के नेतृत्वकर्ता आकाश कश्यप ने कहा कि मोदी सरकार 2 करोड़ का वादा देकर सता में आई, लेकिन रोजगार तो दूर बेरोजगारों का विश्वगुरु भारत को बना दिए हैं।

वहीं दूसरी तरफ रेलवे का निजीकरण-बैंकों को मर्ज-एसएससी में लगातार बहाली घटाते रही है। 2019 फरवरी में रेलवे एनटीपीसी और ग्रुप डी की बहाली रेलवे ने निकाला था करोड़ो छात्रों ने 500 रुपया देकर फॉर्म भरे थे लेकिन 2 साल होने को है परीक्षा का कुछ अता-पता नही है। दूसरी तरफ रेलवे का निजीकरण कर रहा है। जो देश के छात्रों के साथ धोखा है। 2018 अस्सिटेंट लोको पायलट का सब चीज हो जाने के बाद भी ट्रेनिंग के इंतेजार में छात्र है लेकिन उन्हें भी नही बुलाया जा रहा है। छात्रों का मजबूत गठजोड़ बना है रोजगार को लेकर जिसका असर ट्वीटर स्टॉर्म से पता चल रहा है। मोदी सरकार अगर रोजगार नही देती है या छात्रों के मांग को सुनती नही है तो जल्द ही सड़क पर बड़े आंदोलन की शुरुआत होगी। क्योंकि छात्रों ने कहा सरकार तैयार रहे आ रही है बेरोजगारों की सवाड़ी।

*मुख्य मांग*

*रोजगार मांगे इंडिया,युवा मांगे रोजगार,नहीं तो हर महीने दो 10000*

एसएससी सीजीएल 2018, एसएससी सीएचएसएल 2018, एसएससी एमटीएस 2019, रेलवे एनटीपीसी 2019, रेलवे ग्रुप डी 2019, बिहार एसटीईटी 2019, बिहार जूनियर इंजीनियर (जेई), उत्तर प्रदेश अधीनस्थ चयन सेवा आयोग (यूपीएसएसएससी) आदि प्रतियोगी परीक्षाओं की सभी प्रक्रिया अविलंब पूरी करो।

भारतीय रेल, एलआईसी, एचपीसीएल, कोल इंडिया, एयर इंडिया, एयरपोर्ट आदि को बेचे जाने पर तुरंत रोक लगाओ, खत्म किए गए पदों पर बिना देरी के भर्ती करो।