Headlines
Loading...
पटना (बिहार) : अगर मोर्चा को नजर अंदाज किया गया तो मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में अपने उम्मीदवार उतारेगी।।।

पटना (बिहार) : अगर मोर्चा को नजर अंदाज किया गया तो मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में अपने उम्मीदवार उतारेगी।।।

 पटना (बिहार) : अगर मोर्चा को नजर अंदाज किया गया तो मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में अपने उम्मीदवार उतारेगी।



रिपोर्ट: बिहार झारखंड ब्यूरो चीफ धीरज झा


पटना : आज राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आरक्षण मोर्चा सह मुस्लिम आरक्षण मोर्चा ने प्रेस वार्ता का आयोजन पटना के विंदा वाटिका विवाह मंडप में किया। जिसमें मौलाना अलहाज तसलीम रजा खाँ प्रपौत्र, आला हजरत इमाम अहमद रजा खाँ, संस्थापक- अहले सुन्नत वल जमात- मुस्लिम, विश्व विद्वान दरगाहे ए- आला हजरत, बरेली शरीफ, उत्तर प्रदेश और राष्ट्रीय अध्यक्ष मो. परवेज सिद्दीकी प्रदेश अध्यक्ष, नौशाद अहमद दिगर लोग मौजूद थे।


वहीं मीडिया को संबोधित करते हुए मौलाना अलहाज तसलीम रजा खाँ ने कहा कि राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आरक्षण मोर्चा सह मुस्लिम आरक्षण मोर्चा 2017 से बिहार के मुसलमानों के आरक्षण के साथ-साथ मस्जिदों के इमाम और मोअज्जिन की तनख्वाह बिहार वक्फ बोर्ड से दिलाने को लेकर आंदोलन करते आ रही हैं। उन्होंने कहा कि मोर्चा ने 2017 से प्रदेश में 22 से ज्यादा रैली कर चुकी है, मोर्चा के कार्य से काफी खुश हूं इसलिए दरगाह से चलकर पटना आया हूं। 


उन्होंने कहा बिहार विधानसभा चुनाव में मोर्चा जो भी फैसला लेगी उसके साथ खड़ा रहूंगा। उन्होंने बिहार के मुसलमानों से अपील किया है कि मोर्चा विधानसभा चुनाव को लेकर जो भी फैसला लेगी उसके साथ खड़े रहेंगे। उन्होंने कहा पिछले कई वर्षों से यह देखा गया है कि मुसलमान वोट बैंक की तरह इस्तेमाल होते आ रहे हैं, और जब जब चुनाव आता है तभी पार्टियों को मुसलमानों की याद आती है। बिहार में कोई पार्टी मुसलमानों का मसीहा नहीं है।


वहीं प्रेस वार्ता के दौरान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष परवेज सिद्दीकी ने राजद सुप्रीमों लालू यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि बिहार के नौजवान लालू यादव से खुश नहीं हैं। लालू यादव से जो भी उम्मीद थी उस पर तेजस्वी खड़े नहीं उतरे, इनके कई विधायक के विधानसभा क्षेत्र में रहते हुए भी मुसलमानों पर काफी अत्याचार हुआ। तेजस्वी यादव कुछ नहीं बोले, राजद के किसी में नेतृत्व क्षमता नहीं दिखती है। इसलिए अल्पसंख्यक समाज मोर्चा में एकजुट हो रहे हैं। वहीं प्रदेश अध्यक्ष नौशाद अहमद ने दावा किया कि 50 लाख से ज्यादा मुसलमान बिहार में मोर्चा से जुड़े हुए हैं।


वहीं प्रेस वार्ता के दौरान मुख्य रूप से मौके पर मोहम्मद महताब अहमद खाँ, मो. नवाज, मो. मुन्ना, मो. हाशिम अंसारी, मो. आरजू, मो. बख़्तयार रजा, सोहराब रजा एवं दर्जनों लोग उपस्थित रहे।

0 Comments: