Headlines
Loading...
दलगत राजनीति से दूर रहे शिक्षकीय चुनाव समाज की जड़ें हैं शिक्षक

दलगत राजनीति से दूर रहे शिक्षकीय चुनाव समाज की जड़ें हैं शिक्षक

 



शिक्षक विधानपार्षद बने सदन की आत्मा । आज दरभंगा शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र के विशुद्ध शिक्षक प्रत्याशी प्रो. जयशंकर झा अपने नामांकन यात्रा का शुभारंभ 11 पंडितों द्वारा वैदिक मंत्रोच्चार एवं शंखध्वनि के बीच पूजा अर्चना की गई । आगे श्यामा मंदिर पर पूजा अर्चना के पश्चात उन्हें न्यास के सह सचिव प्रो. श्रीपति त्रिपाठी एवं प्रबंधक चौधरी हेमचंद्र राय ने संयुक्त रूप से माँ श्यामा के आशीर्वाद स्वरूप चुनरी प्रदान की । इस अवसर पर संस्कृत विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. शशिनाथ झा,मिथिला विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति डॉ. राजकिशोर झा,प्रख्यात वेदज्ञ डॉ. विद्येश्वर झा,डॉ. सत्यवान,डॉ. अनुरंजन,शिक्षाविद शिवकिशोर राय,डॉ. राजेश्वर पासवान, डॉ. विनय कुमार झा,उमेश साफी समेत सभी प्रो. झा की समाज सेवा का उल्लेख करते हुए उनकी जीत को सुनिश्चत कराने का संकल्प लिया । उसके बाद आयुक्त सह निर्वाची पदाधिकारी मयंक बरबड़े के समक्ष अपना नोमिनेशन दाखिल किया । तत्पश्चात पत्रकारों से बात करते हुए प्रो. झा ने हर कोटि के शिक्षकों के हित मे दलगत राजनीति से हटकर कार्य करनें की प्रतिबद्धता जताई । आगे अपनी प्राथमिकता गिनाते हुए उन्होंनें संबद्ध महाविद्यालयों के शिक्षकों के लिए अनुदान की जगह वेतनमान,नियोजित शिक्षकों के लिए सामान काम समान वेतन,अतिथि प्राध्यापकों का सेवा समंजन, विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों के शिक्षकों की लंबित प्रोन्नति एवं बकाया भुगतान को सुनिश्चित करवाने की दिशा में कार्य करनें का संकल्प लिया । साथ ही संस्कृत एवं मदरसा के शिक्षकों के साथ भेदभाव की नीति को निर्मूल करवाने की अभिब्यक्ति की । प्रो. झा के साथ प्रस्तावक के रूप में सी. एम. साइंस कॉलेज गणित विभागाध्यक्ष सह प्रख्यात गणितज्ञ प्रो. हरिश्चंद्र झा एवं मधुबनी के विद्यालय के नियोजित शिक्षक टुन्ना साह रहे । मौके पर डॉ. बिमल चौधरी,डॉ.आर. बी. खेतान,डॉ.ए.डी.एन सिंह,डॉ. दयानाथ यादव, डॉ.रमेश कुमार झा,प्रो. पी. के. झा ' प्रेम ', डॉ.रामदयाल यादव, डॉ. देवानंद झा,प्रो.एस.के.लाभ,प्रो. मिथिलेश झा,प्रो. रामएकबाल यादव,प्रो.रामबाबू यादव,प्रो.हरि साह,प्रो.बचनेश्वर झा,प्रो. मनोज सिंह, प्रो. नागेंद्र सिंह, प्रो सुधाकर लाल कर्ण,प्रो. पारसनाथ झा,समेत महाविद्यालय एवं विद्यालयों के चारो जिलों से सैकड़ों शिक्षकों ने मनोकामना मंदिर से आयुक्त कार्यालय तक सहभागी हुए ।। ।। वेदध्वनि एवं शंखध्वनि डॉ. सोमेश्वर नाथ झा"दधीचि",डॉ. रिपुसूदन झा,व्यास श्रवण दास,गोपाल दास,बिकास चौधरी एवं अन्य पंडितों द्वारा किया गया ।।

0 Comments: