Headlines
Loading...
बछवाड़ा RTPS: बिचौलियों के साथ पहुंचे आवेदकों का मिनटों में निष्पादित होता है काम

बछवाड़ा RTPS: बिचौलियों के साथ पहुंचे आवेदकों का मिनटों में निष्पादित होता है काम

 



आक्रोशित आवेदकों नें कर्मियों को जमकर बनाया कोप का शिकार

बछवाड़ा,बेगूसराय:-

बिहार सरकार द्वारा राशनकार्ड बनाने की प्रक्रिया प्रारंभ किए जाने के साथ हीं प्रखंड मुख्यालय पर आवेदकों की भीड़ जुटना भी शुरू हो गया है। आवेदकों की जुटने वाली भीड़ के वनिस्पत सरकारी कुव्यवस्था भी दो मुंहे हांडी साबित हो रहा है। बताते चलें कि बिहार सरकार आदेश पर 07 दिसम्बर से सभी प्रखंड मुख्यालयों पर राशनकार्ड के आवेदन संग्रह की प्रक्रिया शुरू है। राशनकार्ड बनवाने वाले आवेदकों के लिए बछवाड़ा बीडीओ पुजा कुमारी नें प्रक्रिया प्रारंभ होने के साथ हीं निर्देश जारी किया गया था कि आवेदन के साथ आवासीय प्रमाण पत्र संलग्न किया जाना अनिवार्य है। आरटीपीएस काउंटर पर आवासीय प्रमाण पत्र, जाती प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, राशनकार्ड आवेदन सहित अन्य प्रकार के सेवाओं के लिए आवेदकों की भीड़ प्रतिदिन लगी रहती है। जुटने लगी इस भीड़ के नियंत्रण ए लोक सेवाओं के निष्पादन के लिए बीडीओ के द्वारा खुब खर्च किए जा रहे हैं। काउंटर पर पुलिस के जवानों की भी तैनाती की गई है। मगर उक्त व्यवस्था की कागजी खानापूर्ति कर महज़ औपचारिकता ही पुरी की जा रही है। आवेदकों नें बताया कि जिन पुलिस के जवानों को आरटीपीएस काउंटर पर ड्युटी लगाई गई है, वे आसपास के चाय-पान की दुकानों पर मडरगश्ती करते रहते हैं। बीच-बीच में आकर पंक्ति में खड़े लोगों पर हीं धौंस जमाकर चलें जाते हैं। इधर काउंटर पर तितर-बितर अनियंत्रित आवेदकों की भीड़ एक-दुसरे से उलझते रहते हैं। साथ हीं आवेदकों नें यह भी बताया कि पंक्तिबद्ध होकर आवेदन जमा करने की प्रक्रिया तो सिर्फ हम गरीब एवं आम लोगों के लिए है। प्रभावशाली लोगों व बिचौलियों के माध्यम से पहुंचने वाले लोगों के लिए सीधे काउंटर के भीतर घुस कर आवेदन जमा करने की भी विशेष सुविधा है। बिचौलियों एवं प्रभावशाली लोगों के माध्यम से पहुंचने वाले आवेदकों का महिनों का काम मिनटों में हीं निष्पादन हो जाता है। प्रखंड कर्मियों एवं आरटीपीएस के डाटा आपरेटिंग करने वालों के इस रवैए से आवेदकों में काफी रोष व्याप्त है। सोमवार को कर्मियों के प्रति आवेदकों का आक्रोश उस समय फुट पड़ा जब बिचौलियों के माध्यम से पहुंचे कुछ आवेदक सीधे काउंटर के भीतर घुस कर अपना काम निष्पादन करवा रहे थे। मौके पर पंक्ति में खड़े आवेदकों की भीड़ अचानक तितर-बितर होकर काउंटर के भीतर घुस गये। और डाटा इंट्री ऑपरेटरों को जम कर खरी-खोटी सुनाई। नारेपुर वार्ड संख्या चार निवासी देवकुमार उर्फ बमबम यादव नें बताया कि राशनकार्ड बनाने हेतु आवासीय प्रमाण पत्र के निष्पादन के लिए पिछले चार दिनों से आरटीपीएस काउंटर का चक्कर लगा रहा हूं, और रोज बिना आवेदन जमा किए हीं वापस लौट रहा हूं। जबकि बिचौलियों के माध्यम से पहुंचे लोगों का काम मिनटों में हो रहा है। मौके पर गुड्डू कुमार यादव, राजीव कुमार, निर्मला देवी, पुजा कुमारी, सविता कुमारी, नेहा कुमारी, प्रिति कुमारी, सुभद्रा कुमारी, आशा देवी, स्नेहलता कुमारी आदि नें प्रखंड कर्मियों एवं आरटीपीएस डाटा आॅपरेटर को जमकर कोपभाजन का शिकार बनाया वह रोष व्याप्त किया।

0 Comments: