Headlines
Loading...
विकलांगता के महान योद्धा डॉ जी एन कर्ण को प्रथम पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि।।

विकलांगता के महान योद्धा डॉ जी एन कर्ण को प्रथम पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि।।

 विकलांगता के महान योद्धा डॉ जी एन कर्ण को प्रथम पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि।।


रविशंकर सिन्हा

कर्ण कायस्थ कल्याण मंच की ओर से आज विकलांगता के क्षेत्र में विशेष कार्य करने वाले नीति आयोग में विकलांगता कोर ग्रुप के चेयरमेन व जेएनयू में विकलांगता विशेषज्ञ रहे डॉ गजेन्द्र नारायण कर्ण जी को उनके प्रथम पुण्यतिथि पर याद करते हुए भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई। स्व कर्ण बिहार के ही मधुबनी जिले के बाबू बरही प्रखंड के तेघड़ा गांव के निवासी थे।बचपन से ही पोलियो के कारण दोनो हाथ और पैर से विकलांग थे।उनकी लिखी कई पुस्तके देश के कई विश्वविद्यालों में पढ़ाई जाती है।उनके लिखे जर्नल कई देशों के प्रतिष्ठित लाइब्रेरी में है।वे एसडीआरएस के माध्यम से पूरे देश में विकलांगों के लिए कार्यक्रम चला रहे थे।


एक सप्ताह पूर्व ही बसंत कुंज इंक्लेव नई दिल्ली स्थित आवास बाली रोड व चौराहा का नाम उनके नाम पर रखा गया।आज उनके प्रथम पुण्यतिथि पर एक वेबिनार का आयोजन हुआ जिसमें देश के जाने माने प्राध्यापको ने भाग लिया। उन्हे श्रदा सुमन अर्पित करने वालो में राजेन्द्र कर्ण,ज्ञान तोश झा वरुणा नंद मल्लिक, पी आर रामानुजम, मनोज लाल दास मनु,अजय कुमार कर्ण,संध्या रानी, राजकुमार दास, विपिन कर्ण, एस के सिंह, विनय कर्ण, श्रेया श्रीवास्तव,कार्तिक अग्रवाल, सिया शर्मा, बिनीता कर्ण, बबीता श्रीवास्तव,नूतन कर्ण आदि प्रमुख थे।


0 Comments: