Headlines
Loading...
सीएसपी संचालक हत्याकांड में शामिल अपराधियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार।।

सीएसपी संचालक हत्याकांड में शामिल अपराधियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार।।

 सीएसपी संचालक हत्याकांड में शामिल अपराधियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार।।



ब्यूरो रमेश शंकर झा,


समस्तीपुर:- जिले में पूर्व सीएसपी संचालक सुनील कुमार हत्याकांड मामले को पुलिस ने आज शनिवार को घटना में शामिल पांच अपराधियों एवं पूर्व में गिरफ्तार चार अपराधियों सहित कुल 9 अपराधियों को किया गिरफ्तार। वहीं सदर डीएसपी प्रीतीश कुमार ने प्रेस वार्ता कर बताया कि सरायरंजन थाना क्षेत्र के झाखड़ा गांव में बीते 7 जून को हथियारबंद अपराधियों ने सरायरंजन थाना क्षेत्र के वाजितपुर निवासी राजेश्वर महतो के पुत्र एवं सीएसपी संचालक सुनील कुमार की लूट के दौरान निर्मम हत्या कर दी थी। जिससे पूरे जिले में सनसनी फैल गई थी। बतादें कि सीएसपी संचालक सुनील कुमार जिले के पूर्व सांसद सह जदयू जिला अध्यक्ष अश्वमेघ देवी के भाई था। वहीं मृतक सुनील कुमार सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया का सीएसपी चलाता था। घटना के दिन वह बैंक से 3 लाख 60 हज़ार रु० निकालकर अपने घर जा रहा था। उसी क्रम में घात लगाए अपराधियों द्वारा घटना को अंजाम देने के बाद उनसे सारा पैसा लूट लिया गया था और लूट के दौरान विरोध करने पर उसका हत्या कर दिया गया था। इस घटना के बाद पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लों के नेतृत्व में त्वरित कार्रवाई करते हुए जिला प्रशासन ने एक सप्ताह के अंदर ही चार अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया था एवं अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही थी। उसके बाद आज शनिवार को पुलिस की टीम ने पांच अन्य अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है। इस घटना के मामले में कुल 9 अपराधियों की गिरफ्तारी हो चुकी है। वहीं गिरफ्तार अपराधियों की पहचान उजियारपुर थाना क्षेत्र के चांदचौर डीह निवासी ०१. ब्रज भूषण चौधरी के पुत्र शुभम कुमार चौधरी, ०२. शम्मी उर्फ राजेश चौधरी, ०३.  शंभू झा के पुत्र रामलाल झा, ०४. शंभू झा के पुत्र आनंद मोहन झा उर्फ मोहन झा ०५. सरायरंजन थाना क्षेत्र के झखड़ा गांव निवासी राम शगुन झा के पुत्र प्रदीप झा के रूप में की गई है।

गिरफ्तार अपराधियों से पूछताछ के दौरान पुलिस को कई अहम जानकारी मिली है। इस घटना के संबंध पुलिस टीम को पूछताछ के दौरान जानकारी मिली कि घटना की पूरी योजना अपराधी प्रदीप झा द्वारा बनाई गई थी। वह झखड़ा गांव का निवासी है और दो बैंकों का सीएसपी संचालक है। अपराधियों को मृतक के बारे में रुपए लाने ले जाने के बारे में सभी जानकारी थी। प्रदीप झा द्वारा ही अपने ममेरे भाई एवं मुफस्सिल थाना क्षेत्र के ग्राम चांदचौर डीह निवासी रामलाल झा के माध्यम से घटना को अंजाम दिलवाया गया था। रामलाल झा पूर्व में अपने इलाज के दौरान प्रदीप झा के यहां पूर्व में रह रहा था। 6 महीने पूर्व से ही घटना देने की योजना बना रहा था। इस घटना में शामिल शूटर शुभम कुमार चौधरी तथा आनंद मोहन झा की गिरफ्तारी कर ली गई है। शुभम पूर्व का कुख्यात अपराधी है जिस पर कई कांड दर्ज है। इस गिरोह के द्वारा वर्तमान घटना के अलावा अन्य कई घटनाओं में संलिप्तता स्वीकार कर ली गई है। जिसमें उजियारपुर थाना क्षेत्र में 12 जुलाई को अपाचे मोटरसाइकिल एवं 13 जुलाई को  टीवीएस छीन ली गई थी। वह मोटरसाइकल भी पुलिस द्वारा बरामद कर लिया गया हैं। वहीं  अभियुक्त प्रदीप कुमार झा के पास से बरामद सामान 5500 रूप, 3 मोबाइल और टीभीएस मोटरसाइकल बरामद पुलिस ने किया। इस आशय की जानकारी सदर डीएसपी प्रीतीश कुमार ने प्रेस वार्ता कर प्रेस को बताया।

0 Comments: