Headlines
Loading...
बिहार पुलिस एकेडमी राजगीर ने रचा इतिहास, मुख्यमंत्री के समक्ष पारण परेड में 1586 प्रशिक्षु दारोगा ने लिया पद की शपथ ।।

बिहार पुलिस एकेडमी राजगीर ने रचा इतिहास, मुख्यमंत्री के समक्ष पारण परेड में 1586 प्रशिक्षु दारोगा ने लिया पद की शपथ ।।

 बिहार पुलिस एकेडमी राजगीर ने रचा इतिहास, मुख्यमंत्री के समक्ष पारण परेड में 1586 प्रशिक्षु दारोगा ने लिया पद की शपथ ।।


नालंदा 

बिहार पुलिस एकेडमी राजगीर के लिए आज का दिन बेहद ही खास रहा । कारण यह है कि आज एक साथ 1586 प्रशिक्षु दारोगा प्रशिक्षण प्राप्त कर पद की शपथ लिया । ये ही नहीं महिला सशक्तिकरण की तरफ बिहार एक और कदम आगे बढ़ाने जा रहा है। जहाँ एक साथ 596 महिला प्रशिक्षु दारोगा सीएम के समक्ष शपथ लिया ।


दीक्षांत परेड समारोह में शामिल होने आए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसके पूर्व परेड का निरीक्षण किया । इस मौके पर उन्होनें कहा कि आज बिहार पुलिस एकेडमी राजगीर ने जो इतिहास रचा है वह यादगार रहेगा । कोरोना काल के बावजूद 2018 बैच के एक साथ 1586 दारोगा को पूरी तरह से प्रशिक्षण देकर दक्ष बनाया गया है । ये ही नहीं एक साथ इतनी 596 महिलाएं दारोग़ा बनी है । जो महिला सशक्तीकरण का बेहतर उदहारण है । पहले थाने में महिला जवान या पदाधिकारी कम दिखती थी मगर अब हर थाने में आज महिला जवान व पदाधिकारी हैं ।

उन्होंने प्रशिक्षु दारोगा को नसीहत देते हुए कहा कि देख लिए आज से आपके ऊपर बड़ी जिम्मेवारी दी गयी है । हमने महिलाओं की मांग पर बिहार में 2016 से शराब बंदी किया है । मगर गलत करने वाले इधर उधर से गलत कर ही देते हैं । ऐसे लोगों पर नजर रखिए और उनपर कानूनी कार्रवाई कीजिए हा गरीब को सताइये भी नहीं आपके थाने में अगर कोई पीड़ित रोता हुए आए तो वह आपके फैसले से हँसता हुआ जाए । इससे क्षेत्र में आपकी लोकप्रियता होगी और पुलिस का सम्मान भी बढ़ेगा । बिहार के डीजीपी एस.के.सिंघल, एकेडमी के निदेशक अपर पुलिस महानिदेशक भृगु श्रीनाथ निवासन ने कहा कि हमारे लिए यह गर्व की बात है कि 2018 बैच के कुल 1586 सब इंस्पेक्टर एक साथ पासिंग आउट हो रहे हैं । जिनमें अकेले 596 महिला सब इंस्पेक्टर शामिल हैं। उन्होंने यह भी कहा कि जिस प्रकार कोरोना काल व अन्य विपरीत परिस्थितियों में आपलोगो ने परेड में कौशल का प्रदर्शन किया है,

वह काबिले तारीफ है। इससे यह जाहिर होता है कि आपलोग किसी भी मुसीबतों में घबराने वाले नहीं हैं। इसी जज्बा के साथ आप अपने अपने क्षेत्र में बहेतर पुलिसिंग का कार्य करेगें । इस मौके बाइक राइडिंग समेत अन्य तरह के कौशल का प्रदर्शन किया गया । इस मौके पर बेहतर परेड और कार्य करने वाले सब इंस्पेक्टर को मुख्यमंत्री द्वारा सम्मानित भी किया गया । पास आउट  होने वाले सब इंस्पेक्टरों के चेहरे पर खुशी साफ झलक रही थी अपने परिजनों के साथ कोई सेल्फी लेती दिखी तो कोई गले लगते दिखे । प्रशिक्षु दारोग ने कहा कि वे एकेडमी में बिताए पल को कभी भूल नहीं सकते हैं ।

0 Comments: