Headlines
Loading...
13 सितंबर से  आइसा पटना विश्विद्यालय के गेट पर करेगा भूख हड़ताल- आइसा।

13 सितंबर से आइसा पटना विश्विद्यालय के गेट पर करेगा भूख हड़ताल- आइसा।

 स्नातक कोर्सेज में हो रहे नामांकन में बिहार बोर्ड के विद्यार्थियों को 50% आरक्षण दो- आइसा।।

पटना

छात्र संगठन आइसा ने माले विधायक दल कार्यालय छज्जुबाग में प्रेस कांफ्रेंस किया नए सत्र में स्नातक कोर्सेज में अंक के आधार पे चल रहे नामांकन में बिहार बोर्ड के अभियार्थियों को 50 % आरक्षण देनें तथा विश्विद्यालय में खाली पड़े शिक्षकों के पदों को तत्काल भरने को ले कर आइसा 13 सितंबर 2021 को विश्विद्यालय गेट पे अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल करेगा.

प्रेस कांफ्रेंस में पत्रकारों से बातचीत करते हुए आइसा राज्य सह सचिव विकाश यादव ने कहा कि पटना विश्विद्यालय इस बार स्नातक में प्रवेश परीक्षा के जगह 12 वी के अंक के आधार पर एडमिशन ले रहा है CBSE तथा ICSE के छात्रों के मार्किंग पैटर्न बिहार बोर्ड के छात्रों के मार्किंग पैटर्न भिन्न होते हैं जिसके वजह से बिहार बोर्ड के छात्रों को कम अंक आते हैं और अगर बिहार बोर्ड के छात्रों को आरक्षण नहीं दिया गया तो ग्रामीण परिवेश से आने वाले हज़ारों छात्रों उच्च शिक्षा से वंचित रह जाएंगे.आइसा नेता नीरज यादव ने कहा कि विश्विद्यालय में शिक्षकों की भारी कमी के वजह से कक्षाएं सुचारु रूप से नहीं चल रही हैं ,विश्विद्यालय 2 साल से पीएचडी की प्रवेश परीक्षा नहीं ले रहा है .बिहार सरकार तथा विश्विद्यालय छात्रों के भवीष्य बर्बाद कर रहा है.इसलिए अविलंब विश्विद्यालय में रिक्त पड़े शिक्षकों के पदों को भरा जाए.आइसा नेता दिव्यम ने कहा कि सत्र 2019 के पीएचडी छात्रों को कोर्स वर्क में तकनिकी दिक्कतों से फेल कर दिया गया  है. एक तरफ़ कोरोना के वजह से छात्रों की पढ़ाई नहीं हुई है उसके  बावजूद लोगों को फेल कर दिया गया है. विश्विद्यालय छात्रों के भवीष्य के साथ खिलवाड कर रहा है.विश्विद्यालय री एक्जाम करा के उन छात्रों को पास करे. प्रेस कॉन्फ्रेंस में आइसा से विकाश यादव, साकेत कुमार, दिव्यम, नीरज यादव एंव पीएचडी अभ्यर्थी राकेश कुमार मौजूद थे।

0 Comments: