Headlines
Loading...
नालंदा - गणेश प्रतिमा को अंतिम स्वरूप देने में जुटे मूर्तिकार।।

नालंदा - गणेश प्रतिमा को अंतिम स्वरूप देने में जुटे मूर्तिकार।।

 नालंदा - गणेश प्रतिमा को अंतिम स्वरूप देने में जुटे मूर्तिकार।। 


नालन्दा

कोविड 19 के कारण पिछले दो साल से किसी भी पर्व त्योहार को सामुहिक रूप से मनाने की सरकार द्वारा पूर्णतः पाबंदी लगा दी गयी थी । मगर इस साल कोरोना का रफ्तार कम होने के बाद त्योहारों को सामूहिक रूप से मनाने का आदेश दिया गया है । इस कारण मूर्तिकारों के बुझे चेहरे पर भी थोड़ी मुस्कान आयी है । मूर्तिकार इन दिनों भगवान गणेश की प्रतिमा को अंतिम स्वरूप देने में जुटे हैं । मुम्बई के तर्ज पर बिहारशरीफ में भी कई जगहों पर पूजा पंडालों में गणेश की प्रतिमा बिठा कर 10 दिनों तक पूजा अर्चना की जाती है ।  मूर्तिकार अजय कुमार ने बताया कि यह हमलोगों का पुस्तैनी काम है । 2 साल से किसी तरह के आयोजन नहीं होने के कारण हम लोग भुखमरी के कगार पर आ गए थे । इस साल पूजा के आयोजन से थोड़ी राहत मिली है । मगर जिस तरह पहले मूर्ति की मांग होती थी । इस साल उतनी नहीं है ।

0 Comments: