Headlines
Loading...
किसान आन्दोलन के आवाहन पर सरकार के उपेक्षापूर्ण नीति के खिलाफ आयोजित भारत बन्द रहा सफल।।

किसान आन्दोलन के आवाहन पर सरकार के उपेक्षापूर्ण नीति के खिलाफ आयोजित भारत बन्द रहा सफल।।

 किसान आन्दोलन के आवाहन पर सरकार के उपेक्षापूर्ण नीति के खिलाफ आयोजित भारत बन्द रहा सफल।।



ज़ाहिद अनवर (राजु) / दरभंगा


*दरभंगा*--किसान विरोधी तीनों  काला कृषि कानून, प्रस्तावित बिजली बिल 2020 वापस लेने, महंगाई के खिलाफ संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर आयोजित भारत बन्द के समर्थन में आज सम्पूर्ण दरभंगा जिला बन्द रहा। लहेरियासराय में संयुक्त किसान मोर्चा के कार्यकर्ता हजारों की संख्या में पोलो मैदान से निकलकर समाहरणालय होते हुए लहेरिया सराय टावर, लोहिया चौक, बाकरगंज, जीएन गंज, कमर्शियल चौक होते हुए लहेरियासराय टावर पर आकर लगभग 1 घंटा सड़क जाम किया गया। जहा फिर आयुक्त कार्यालय तक किसान सभा के पूर्व महामंत्री नारायण जी झा, किसान सभा के राज्य अध्यक्ष ललन चौधरी, श्याम भारती, किसान महासभा के प्रभारी अभिषेक कुमार, धर्मेश यादव, राजद जिला अध्यक्ष उमेश राय, कांग्रेस के ज़िला महासचिव सरफ़राज़ अनवर और गणेश चौधरी के नेतृत्व में मार्च निकाला गया। आयुक्त कार्यालय के पास आकर बंद समर्थकों ने सड़क को जाम करके सभा में तब्दील हो गया जिसे इंसाफ मंच के नेयाज अहमद, दरभंगा किसान काउंसिल के राम सागर पासवान व किसान सभा के आनंदमोहन की अध्यक्षता में सभा आयोजित की गई। सभा को संबोधित करते हुए किसान नेताओं ने कहा कि मोदी सरकार आज देश को बेचने के लिए तैयार है। आज किसान लगभग 300 दिन से अधिक समय से तीन कृषि कानून वापस लेने की मांग कर रहे है। लेकिन सरकार इस मुद्दे पर ध्यान नही दे रही है। उन्होंने कहा कि तीन कृषि कानून वापस लेने, प्रस्तावित बिजली बिल 2020 वापस लेने, न्यूनतम समर्थन मूल्य पर किसानो के फसल खरीद की गारंटी करने, मंहगाई पर रोक लगाने, डीजल पेट्रोल, रसोई गैस की कीमत कम करने, बाढ़ सुखाड़ का स्थायी निदान, राहत राशन, फसल क्षति की व्यवस्था सहित अन्य मांगों को सरकार से पूरा करने की मांग की है। किसान मोर्चा के नेताओं ने दावा किया कि आज सम्पूर्ण दरभंगा जिला के किसान सड़क पर उतर कर सरकार के नीति का विरोध किया है। और सम्पूर्ण दरभंगा बंद को सफल किया। बन्द में बिहार राज्य किसान सभा के दिनेश झा, महेश दुबे, ललन यादव, शुशीला देवी, मंगनु राम, उग्र नारायण गिरी, सत्यप्रक्ष चौधरी, सुधीर पसवन, गुरु लाल महतो, बीरेंद्र चौपाल, शीला देवी, शुशीला देवी, दाना देवी, कमती देवी, किसान सभा के राजू मिश्रा, मणिकांत झा, मोहम्मद कलाम, रमेश राय, लक्ष्मी पासवान, रामाशीष राम, उमेश यादव, गुड्डू यादव, मानस सिंह अधिवक्ता, किसान महासभा के नंद लाल ठाकुर, खेग्रामस जिला अध्यक्ष जंगी यादव, विनोद सिंह, गणेश महतो, हरि पासवान, अकबर रजा, जमशेद, कुमारी नीलम, दामोदर पासवान, विशनाथ पासवान, शोभा देवी, संतोष यादव, देवेन्द्र कुमार, सदीक भारती, एक्टू नेता उमेश साह, सत्यनारायण पासवान पप्पू, प्रवीण यादव, भोला पासवान, सुरेंद्र पासवान, रामबृक्ष यादव, इनौस नेता गजेन्द्र नारायण शर्मा, कामेश्वर पासवान, सबिता देवी, सुनीता देवी, कोमल कांत यादव, ओम प्रकाश महतो, मोहम्मद जमालुद्दीन, लक्ष्मण पासवान, सुमन साह, आइसा जिला अध्यक्ष प्रिंस राज

राजद के शंभु पासवान, जिला उपाध्यक्ष, लक्ष्मेश्वर सिंह, प्रदेश महासचिव उदय शंकर चौधरी, जिला महासचिव विष्णु चंद्र पप्पू, महिला अध्यक्ष यास्मीन खातून सहित दर्जनों लोग शामिल थे।

0 Comments: